पीलीभीत: अधिवक्ता ने कही सीएम आवास के सामने जान देने की बात और हो गई एफआईआर..जानिए मामला

पीलीभीत: अधिवक्ता ने कही सीएम आवास के सामने जान देने की बात और हो गई एफआईआर..जानिए मामला

पीलीभीत/बिलसंडा, अमृत विचार। अधिवक्ता की ओर से की गई शिकायत और सीएम आवास के सामने खुदकुशी की चेतावनी देने के बाद बिलसंडा पुलिस हरकत में आई। दिवाली की पूर्व संध्या पर हुए झगड़े की सात नामजद समेत दस के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

नगर के मेनरोड निवासी अधिवक्ता शिव शंकर गुप्ता के पुत्र अंकुर गुप्ता ने दर्ज कराई गई रिपोर्ट में बताया कि गोला मार्ग निवासी किराना व्यापारी सतीश जायसवाल के पुत्र सुरेश जायसवाल समेत अन्य लोगों से उसका जमीन का विवाद है। कोर्ट में मुकदमा भी विचाराधीन है।

आरोप है कि दिवाली की पूर्व संध्या पर आरोपियों ने उनके घर में घुसकर मारपीट की। धारदार हथियार से वार कर घर की महिलाओं को भी घायल किया। पुलिस ने उसी दिन दूसरे पक्ष की ओर से रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। मगर अधिवक्ता पक्ष की रिपोर्ट दर्ज नहीं की। 

अधिवक्ता ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई और कार्रवाई न होने पर सीएम आवास के सामने खुदकुशी करने का ऐलान किया था।इसके बाद पुलिस हकरत में आई कार्रवाई की।अब अधिवक्ता के बेटे की तहरीर पर सुरेश जायसवाल, स्वामी दयाल गुप्ता, तुषार ,आयुष , गोपाल, नन्हे उर्फ अजय, अंकित सात नामजद समेत दस आरोपियों पर रिपोर्ट दर्ज की है।

ये भी पढे़ं- पीलीभीत: पत्नी से हुई अनबन और नहीं बनी बात, दोनों ने फंदा लगाकर दे दी जान..जानिए मामला

 

 

Online Jobs Apply