यूपी में अब तक के सबसे बड़े निवेश के लिए होने जा रहा भूमि पूजन! सूबे की अर्थव्यवस्था में आएगा BIG BOOM!

राजधानी के साथ ही सभी 75 जिलों में भी होगा भूमि पूजन समारोह का आयोजन

यूपी में अब तक के सबसे बड़े निवेश के लिए होने जा रहा भूमि पूजन! सूबे की अर्थव्यवस्था में आएगा BIG BOOM!

राजधानी लखनऊ में पीएम और सीएम करेंगे जीबीसी 4.0 का शुभारंभ, जिलों में डीएम होंगे कर्ता-धर्ता  

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अबतक के सबसे बड़े निवेश के लिए होने जा रहे भूमि पूजन समारोह (जीबीसी 4.0) की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। 10 लाख करोड़ रुपए के निवेश को धरातल पर उतारने का ये महा आयोजन कई मायनों में बेहद खास होने जा रहा है। 19 से 21 फरवरी तक आयोजित होने वाला मुख्य समारोह जहां राजधानी के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित होगा, वहीं दूसरी तरफ प्रदेश के सभी 75 जिलों में भी 19 फरवरी को जीबीसी 4.0 का आयोजन किया जाएगा।

मुख्य आयोजन स्थल लखनऊ में देश विदेश के लब्ध उद्योगपतियों की उपस्थिति होगी। वहीं जिलों में 10 करोड़ से कम का निवेश करने वाले उद्यमियों के साथ ही स्थानीय उद्योग से जुड़े गणमान्य लोग भी शामिल होंगे। इसके अलावा जहां एक तरफ लखनऊ में आयोजित होने वाले समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गरिमामयी मौजूदगी होगी तो वहीं जिलों में आयोजन के मुख्य कर्ता-धर्ता की भूमिका में जिलाधिकारी होंगे। 

1 से 10 करोड़ की 8 हजार 735 परियोजनाएं

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 4.0 के माध्यम से प्रदेश में कुल 10 लाख 15 हजार 583 करोड़ की 14 हजार 537 परियोजनाएं धरातल पर उतरने को पूरी तरह तैयार हैं। इनमें 500 करोड़ की 300 परियोजनाएं, 100 से 500 करोड़ की 895 परियोजनाएं, 10 से 100 करोड़ की 4 हजार 577 परियोजनाएं, 1 से 10 करोड़ की सर्वाधिक 8 हजार 735 परियोजनाएं शामिल हैं। सभी परियोजनाओं के धरातल पर आने के बाद 34 लाख से अधिक रोजगार सृजित होंगे। कुल मिलाकर ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी-4.0 संपूर्ण प्रदेश के साथ ही प्रत्येक जिले में भी औद्योगिक विकास को नई गति प्रदान करेगी।

ओडीओपी की लगेगी प्रदर्शनी

सीएम योगी के निर्देश है कि जिलों में होने वाले जीबीसी 4.0 आयोजन के दौरान वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट की प्रदर्शनी लगाई जाए। साथ ही जीबीसी के लिए रेडी प्रोजेक्ट के ग्राउंड वैरिफिकेशन का कार्य शत प्रतिशत पूरा किया जाए। साथ ही इस बात को भी सुनिश्चित कर लिया जाए कि जीबीसी 4.0 के आयोजन के वक्त होने वाले नये निवेश के लिए भी लैंड फैसिलिटेशन की सुविधा हो।

जनपदों में होने वाले आयोजन के दौरान निवेशकों और स्थानीय उद्यमियों के सामने 'उद्यम प्रदेश' के रूप में तब्दील होते नए यूपी की झलकियां भी प्रस्तुत की जाएंगी। इतना ही नहीं राजधानी लखनऊ में आयोजित हो रहे ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 4.0 के मुख्य कार्यक्रम का लाइव प्रसारण भी सभी जिलों में आयोजित समारोह के दौरान किया जाएगा।

पिछले साल के समारोह से यूपी के मिले लाखों के निवेश प्रस्ताव

बता दें कि गत वर्ष फरवरी माह में योगी सरकार ने यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (यूपी जीआईएस - 2023) का आयोजन किया था। इससे पहले सरकार के मंत्रीगण और अधिकारियों ने दुनिया के बड़े औद्योगिक शहरों के साथ ही देशों के सभी बड़े महानगरों में रोड शो का आयोजन करके उद्योग जगत के साथ संवाद स्थापित किया।

इसका परिणाम रहा कि प्रदेश को बीते एक साल में तकरीबन 40 लाख करोड़ के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हो चुके हैं। सुधरी कानून व्यवस्था, विभिन्न सेक्टर के लिए  बनाई गईं नई नीतियां, बेहतरीन ट्रांसपोर्ट कनेक्टिविटी और निर्बाध बिजली की आपूर्ति, जैसे तमाम सुधारों ने दुनियाभर के उद्योगपतियों को यूपी की तरफ आकर्षित किया है।

Untitled-35 copy

यह भी पढ़ें: अच्छी कानून व्यवस्था की कीमत लोग बखूबी समझते हैं: सीएम योगी

ताजा समाचार

रामपुर: सरकारी स्कूल के प्रधानाध्यापक के उत्पीड़न से तंग हुईं शिक्षिकाएं, आत्मदाह की चेतावनी
क्राइम स्टोरी: कर्मचारी का मशीन से कट गया पैर तो कार में भर फेंक आए उन्नाव, सड़क किनारे मिली लाश 
मिर्जापुर में कुदरत का कहर, आकाशीय बिजली गिरने से महिला समेत दो की मौत
बदायूं पहुंचे केशव प्रसाद मौर्य, बोले- सपा समाप्तवादी, बसपा बिल्कुल समाप्तवादी, सपाइयों का नारा...खाली प्लाट हमारा 
बरेली: श्री दरबार साहिब के पूर्व हेड ग्रन्थी ज्ञानी जगतार सिंह जी ने बताया खालसा साजना दिवस का महत्व
बलरामपुर: सिरिया नाले में नहाने गए दो बच्चों को मौत, सदमे में हैं परिजन