रुद्रपुर: पुलिस ने पिस्टल देसी तमंचे व बंदूक सहित 10 असलहे किए बरामद 

रुद्रपुर: पुलिस ने पिस्टल देसी तमंचे व बंदूक सहित 10 असलहे किए बरामद 

गदरपुर, अमृत विचार। एसएसपी ने गदरपुर पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा भारी मात्रा में अवैध असलहा पकड़े जाने का खुलासा करते हुए बताया कि पुलिस ने अवैध पिस्टल, देशी तमंचे, बन्दूक सहित 10 असलहे व एक दर्जन कारतूस के साथ आरोपी को गिरफ्तार किया है। एसएसपी ने पकड़ने वाली टीम को 2000 रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

सोमवार को अवैध असलहा पकड़े जाने का खुलासा करते एसएसपी मंजूनाथ टी सी ने बताया कि जनपद में सक्रिय अपराधियों के विरुद्ध अभियान चलाने के दौरान मुखबिर की सूचना पर थानाध्यक्ष भुवन चंद जोशी, एसओजी प्रभारी मनोज धोनी के नेतृत्व में गदरपुर पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम 26 फरवरी को रतनपुरा बार्डर से लगभग 150 मीटर पीछे रात्रि 8 बजे चेकिंग कर रही थी। उसी दौरान संदिग्ध हालत में खड़ा व्यक्ति दिखाई दिया।

पुलिस को देख वह घबरा गया। इस पर पुलिस ने युवक को पकड़ लिया। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना नाम किशनपाल पुत्र स्व. खयाली राम निवासी वार्ड 5 खेड़ा रुद्रपुर ऊधम सिह नगर बताया। पुलिस ने जब किशन पाल की तलाशी ली तो इसके पास से  एक पिस्टल फैक्ट्री मेड .32 बोर बरामद हुई। पुलिस ने जब उसके कन्धे पर लटके बैग को चेक किया तो उसके भीतर 1 पिस्टल फैक्ट्री मेड .32 बोर, 1 पौनिया बन्दूक 12 बोर, 7 तमंचे 315 बोर, 7 कारतूस 315 बोर, 5 कारतूस 12 बोर, 5 कारतूस .32 बोर  बरामद किए गए।

आरोपी ने बताया कि आने वाले लोकसभा चुनाव में जब लाइसेंसी असलहे जमा हो जाएंगे तो वह अवैध असलहों को ऊंचे दामों में ऊधमसिह नगर और उत्तराखण्ड के अन्य शहरों में बेचकर मोटा मुनाफा कमाता। उसने बताया कि अवैध असलहा वह मध्य प्रदेश के मुरैना से खरीदकर लाया था।

पुलिस ने आरोपित किशनपाल के खिलाफ धारा 3/25 आर्म एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि आरोपित किसको माल बेचने जा रहा था और कहां जमा कर रहा था, इसकी जांच की जा रही है। आरोपी को पकड़ने वाली टीम में थानाध्यक्ष भुवन चन्द्र जोशी, उप निरीक्षक गणेश दत्त भट्ट, एसओजी प्रभारी मनोज धौनी, भुवन पांडे, इरशाद उल्ला, दर्शन सिंह, दीपक जोशी, ललित कुमार, भूपेन्द्र, नीरज कुमार, राजेन्द्र रजवार शामिल थे।

ताजा समाचार