गोंडा: बड़ी बहन ने दिया कुंवर विक्रम की अर्थी को कंधा, चाचा ने दी मुखाग्नि

मनकापुर के मनवर नदी के तट पर हुआ राजघराने के कुंवर विक्रम सिंह का अंतिम संस्कार

गोंडा: बड़ी बहन ने दिया कुंवर विक्रम की अर्थी को कंधा, चाचा ने दी मुखाग्नि

मनकापुर/ गोण्डा, अमृत विचार। मनकापुर राजघराने के सदस्य व बीजेपी सांसद कीर्तिवर्धन सिंह के चचेरे भाई कुंवर विक्रम सिंह सोमवार को अंतिम संस्कार किया गया। राजस्थान के जोधपुर से आई बड़ी बहन शिवाली सिंह ने नम आंखों के साथ भाई की अर्थी को कंधा दिया। चाचा कुंवर अतुल सिंह ने मनवर नदी के तट पर‌ भतीजे की चिता को मुखाग्नि दी।  विक्रम भैया अमर रहे के नारे के साथ लोगों ने अपने प्रिय नेता को अंतिम विदाई दी। 

मनकापुर राजघराने के सदस्य कुंवर विक्रम सिंह(45) का रविवार को हार्ट अटैक से आकस्मिक निधन हो गया था‌। वह अपनी छोटी बहन के साथ अपने पैतृक आवास मंगल भवन में रहते थे। रविवार को उन्हे अचानक दिल का दौरा पड़ा था। भाई के निधन की खबर सुनकर उनकी तीन बहनें सोमवार को मनकापुर पहुंची। बडी बहन शिवाली सिंह अपने पति प्रवीन सिंह के साथ राजस्थान के जोधपुर से मनकापुर पहुंची थी चचेरी बहन मनीषा सिंह दुबई व अर्पिता सिंह हरियाणा के गुणगांव से भाई के अंतिम दर्शन के लिए मनकापुर स्थित मंगल भवन पहुंची। 

दोपहर बाद मंगल भवन से दिवंगत कुंवर विक्रम सिंह की शवयात्रा निकाली गयी। सांसद कीर्तिवर्धन सिंह समेत हजारों लोग इस अंतिम यात्रा में शामिल हुए। विक्रम भैया अमर रहे के नारे के साथ उनका पार्थिव शरीर शमशान घाट के तट पर पहुंचा। परिवार में छोटे भाई के असामयिक निधन पर बडी बहन शिवाली सिंह ने भाई की अर्थी को कंधा दिया।

चाचा कुंवर अतुल सिंह ने मनवर नदी के तट पर भतीजे के चिता को मुखाग्नि दी। इल दौरान हजारों की संख्या में स्थानीय लोग मौजूद रहे। दिवंगत कुंवर की अंतिम यात्रा में उनके ननिहाल नेपाल राष्ट्र के कृष्णानगर से मामा, मामा के लड़के शैलेश, अभिषेक आदि सब परिवार के लोग भी शामिल हुए। इसके अलावा जिले भर के जन प्रतिनिधि भी कुंवर की अंतिम यात्रा में शामिल हुए। पूर्व मंत्री व मनकापुर विधायक रमापति शास्त्री, विधायक गौरा प्रभात वर्मा, विधायक उतरौला रामप्रताप वर्मा, विधायक मेहनौन विनय कुमार द्विवेदी, पूर्व विधायक राम विसुन आजाद, रमेश बुधवार, ब्लाक प्रमुख जगदेव चौधरी, राकेश वर्मा, जनार्दन तिहारी, श्रवण शुक्ला, अवधेश सिंह, पहाडी सिंह, यूपी सिंह, केके सिंह, संग्राम सिंह, राकेश सिंह, अंकित पान्डेय, ललित सिंह आदि हजारों लोगों ने कुंवर विक्रम को अंतिम विदाई दी। कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने भी मंगल भवन पहुंचकर परिजनों को ढाढ़स बंधाया।

ये भी पढ़ें -बाराबंकी: प्रदेश महामंत्री ने बताया भाजपा का विजन, संकल्प पत्र को कहा-विकसित भारत का ब्लू प्रिंट