पीलीभीत: 7.18 लाख हो गए खर्च, फिर दस लाख की मांग पूरी न होने पर तोड़ दिया रिश्ता...पांच पर FIR

पीलीभीत:  7.18 लाख हो गए खर्च, फिर दस लाख की मांग पूरी न होने पर तोड़ दिया रिश्ता...पांच पर FIR

पीलीभीत, अमृत विचार। निकाह से कुछ समय पहले लड़का पक्ष ने अचानक दस लाख रुपये दहेज की मांग रख दी।  जब इसे पूरा करने में लड़की पक्ष ने असमर्थता जताई तो निकाह करने से ही इनकार कर दिया गया। पूर्व में लिया गया नकदी जेवरात समेत अन्य सामान भी वापस नहीं लौटाया। अमरिया पुलिस ने लड़की के पिता की तहरीर पर पांच लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

अमरिया थाने में क्षेत्र के एक व्यक्ति ने तहरीर देकर बताया कि उसकी पुत्री का निकाह बरेली जनपद के दियोरनिया क्षेत्र के कस्बा दियोरनिया मुड़िया के निवासी इमरान से तय हुआ था। दस अप्रैल 2024 को रिश्ता पक्का करने व लड़का देखने लड़की के परिवार वाले गए तो 51 हजार रुपये भी दे आए थे।  इसके बाद लड़का पक्ष भी लड़की देखने आया था। सभी के नाश्ते में दस हजार रुपये खर्च किए गए।  

इसके अलावा भी कई बार आना-जाना हुआ जिसमें  कुल 7.18 लाख रुपये खर्च हो गए। निकाह की तारीख भी तय कर दी गई। इसके बाद अचानक अतिरिक्त दहेज में दस लाख रुपये की मांग रख दी गई। इसके पूरा किए बिना शादी से इनकार कर दिया गया। दिया गया सामान वापस करने से भी इनकार कर दिया गया। झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दे डाली।

पुलिस ने मामले में कस्बा दियोरनिया मुड़िया निवासी इमरान, इकरार, इरशाद, ग्राम सकरस के हफीज, कस्बा रिठौरा के साजिद के खिलाफ दहेज उत्पीड़न और धमकाने की रिपोर्ट दर्ज की है।

ये भी पढे़ं- पीलीभीत: शादी के 10 साल बाद विवाहिता को दे दिया तीन तलाक, बच्चे भी छीने...FIR दर्ज

 

 

ताजा समाचार

सेल्सफोर्स को भारत में 2028 तक 18 लाख नौकरियां और 88.6 अरब डॉलर के राजस्व की उम्मीद
Olympic Paris 2024 : पेरिस ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे घुड़सवार अनुश अग्रवाल
गोंडा: 10 जून को आबूधाबी से स्वदेश के लिए निकला था विनोद, नहीं पहुंचा घर, परिजनों ने विदेश राज्य मंत्री से लगायी मदद की गुहार
तीसरी बार सांसद निर्वाचित हुए बिरला फिर से बन सकते हैं लोकसभा अध्यक्ष 
बर्खास्तगी की कार्रवाई में आया ट्विस्ट, हरदोई के आउटसोर्सिंग कर्मी ने दी सफाई-वीडियो वायरल 
Exclusive: युवक के मोबाइल पर आया चालान तो हुआ हैरान, वाहन की नंबर प्लेट चोरों से बचाएं वरना चले जाएंगे जेल