इटावा: खाने बनाते समय सिलेंडर से लगी आग, गृहस्थी का सामान जलकर हुआ राख

इटावा: खाने बनाते समय सिलेंडर से लगी आग, गृहस्थी का सामान जलकर हुआ राख

इटावा। जिले के इकदिल कस्वा मोहल्ला जुल्हापुरी में आज सुबह पति के लिए खाना बनाते समय गैस सिलेंडर के रेगुलेटर गैस रिसाव से लगी आग ने भयानक रूप धारण कर घर के अंदर रखा गृहस्थी का सारा सामान जलकर हुआ राख पड़ोसी की मदद से पानी डालकर पाया आग पर क़ाबू। जानाकारी के मुताबिक इकदिल …

इटावा। जिले के इकदिल कस्वा मोहल्ला जुल्हापुरी में आज सुबह पति के लिए खाना बनाते समय गैस सिलेंडर के रेगुलेटर गैस रिसाव से लगी आग ने भयानक रूप धारण कर घर के अंदर रखा गृहस्थी का सारा सामान जलकर हुआ राख पड़ोसी की मदद से पानी डालकर पाया आग पर क़ाबू। जानाकारी के मुताबिक इकदिल कस्वा के मोहल्ला जुल्हापुरी में तौफीक अहमद पुत्र मोहम्मद उमर के घर मे सुबह करीब 10 बजे अपने पति के लिये ईसरत खाना बनाते समय गैस सिलेंडर खोला रेगुलेटर में गैस रिसाव होने से आग लग गयी।

जिसमे महिला आग की लपटों में झुलस गयी देखते देखते आग ने भयकंर रूप धारण कर लिया आग की लपटों को देखकर चीक पुकार होने से महोल्ला वासीयो ने अपने अपने घरों से पानी का समर चलाकर कड़ी मसक्कत के बाद आग पर काबू पाया। जब तक आग पर क़ाबू पाया घर मे रखी टीवी, अलमारी, फ्रिज, गैस चूल्हा, कूलर, बर्तन, कपड़े चारपायी जलकर राख हो गया।

पीड़ित का करीब 1 लाख रुपये का सामान आग से जलकर राख हो गया । तौफीक मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था खाने और पहनने का काफी संकट खड़ा हो गया परिवार का रो रो कर बुरा हाल है। तौफीक ने बताया कि मेरे पास अब जो कपड़े शरीर पर हैं बस वही बचा और अब मेरी जीवन की अभी तक जो कमाकर गृहस्ती जोड़ी थी वह सब जलकर खाक हो गई आज सुबह जब मैं खाना खाकर पल्लेदारी के लिए कोल्ड स्टोर में जाने वाला था। तभी यह घटना घटित हुई।

उस वक्त मेरे पास मेरी तीनों संताने मेरे पास ही बैठी हुई थी, और मैं खाना खा रहा था तभी गैस सिलेंडर के रेगुलेटर में अचानक आग लगी और देखते ही देखते आग ने इतना बड़ा रूप धारण कर लिया कि मैं जब तक अपने बच्चों और पत्नी को बचा पाते बचाते बचाते में मेरे हाथ और पत्नी का चेहरा झुलस गया।

यह भी पढ़ें:-शाहजहांपुर: पोते ने दादा की तमंचे से गोली मारकर की हत्या, परिवार में मचा कोहराम

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement