इटावा: फूफा के घर आए युवक ने फांसी लगाकर दी जान, जांच में जुटी पुलिस

इटावा: फूफा के घर आए युवक ने फांसी लगाकर दी जान, जांच में जुटी पुलिस

जसवंतनगर, इटावा। जिले के जसवंतनगर के ग्राम महलई में अपने फूफा के यहां आए एक युवक ने शहतूत के पेड़ पर गमछे से लटक कर आत्महत्या कर ली वह दिल्ली में प्राइवेट कंपनी में हेल्पर का काम करता था मृतक की उसके फूफा ओमकार ने शिनाख्त की है। मृतक शिवम उम्र 27 वर्ष पुत्र राजेंद्र …

जसवंतनगर, इटावा। जिले के जसवंतनगर के ग्राम महलई में अपने फूफा के यहां आए एक युवक ने शहतूत के पेड़ पर गमछे से लटक कर आत्महत्या कर ली वह दिल्ली में प्राइवेट कंपनी में हेल्पर का काम करता था मृतक की उसके फूफा ओमकार ने शिनाख्त की है।

मृतक शिवम उम्र 27 वर्ष पुत्र राजेंद्र कठेरिया निवासी रूरू कला थाना बिधूना जिला औरैया अपने फूफा ओमकार पुत्र मुलायम सिंह निवासी महलई के यहां आया था मंगलवार की सुबह गांव की महिलाएं शौच के लिए गई तो तो उसको उन्होंने एक युवक को आशाराम के बाजरे के खेत के समीप गांव से लगभग 200 मीटर की दूरी पर पेड़ पर लटका देखा तो महिलाओं ने गांव में आकर इसकी सूचना दी।

कुछ ही समय पश्चात गांव के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए और उन्होंने 112 नंबर की पुलिस को फोन कर इस घटना की जानकारी दी कुछ ही देर बाद क्षेत्राधिकारी अतुल प्रधान तथा प्रभारी निरीक्षक अब्दुल सलाम सिद्दीकी घटनास्थल पर पहुंचे और उन्होंने शव को उतवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

बताते है कि मृतक के 6 भाई तथा दो बहने हैं मृतक तीसरे नंबर का था वह दिल्ली में प्राइवेट नौकरी कर रहा था 1 दिन पूर्व ही यहां आया था। अब ऐसा क्या हुआ जिससे उसने यह कदम उठाया पुलिस उसकी जांच कर रही है। मृतक के भाई रंजीत ने बताया कि वह दिल्ली से सीधा अपने घर रुरूकला बिधूना न आकर महलई बुआ के यहां क्यों गया और अत्याहत्या क्यों की यह एक सवाल बना है।

यह भी पढ़ें:-बहराइच: बेटे की मौत के गम में मां ने फांसी लगाकर दी जान, दो बेटियों के बाद हुआ था बेटा

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement