IND vs NZ : खैर मनाइये, हारे नहीं, नहीं तो पिच ऐसी थी कि...

इकाना स्टेडियम की पिच पर मचा बवाल

IND vs NZ : खैर मनाइये, हारे नहीं, नहीं तो पिच ऐसी थी कि...

 खराब पिच के चलते आईपीएल तक एक भी मुकाबला यहां नहीं खेले जाने का लिया गया निर्णय

अमृत विचार,लखनऊ। भारत और न्यूजीलैंड के बीच रविवार को अटल बिहारी बाजपेयी इकाना स्टेडियम के टर्निंग विकेट पर खेला गया टी-20 मैच सवालों के घेरे में आ गया है। मैच खत्म होते ही टीम इंडिया के कप्तान हार्दिक पांड्या के साथ गेंदबाजी कोच पारस म्हाम्ब्रे ने पिच को लेकर सवाल उठाये और इकाना स्टेडियम के प्रबंधन को कटघरे में खड़ा किया।

विशेषज्ञों के बयानों के बाद उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) ने पिच खराब होने की बात स्वीकार कर ली। एसोसिएशन ने इकाना स्टेडियम में जल्द नया क्यूरेटर नियुक्ति करने के निर्देश दिये हैं। एक महीने अंदर पिच को सुधारा जाये जिससे यहां पर मैचों के आयोजन हो सकें। जब तक पिच ठीक नहीं हो जाती, तब तक यहां पर कोई मैच नहीं होगा। आईपीएल से पहले पिच ठीक कराने के निर्देश दिये गए हैं।

सोमवार को इकाना की पिच को लेकर बीसीसीआई और यूपीसीए के पदाधिकारियों के दिन भर नोंक -झोंक चलती रही। लेकिन जब पिच के व्यवहार को लेकर कई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के बयान सामने आये तो आयोजक बैकफुट पर आ गए। पहले तो यूपीसीए ने इकाना स्टेडियम में अधिक संख्या में मुकाबले आयोजित किये जाने का हवाला देकर इस मामले से पल्ला झाड़ने की कोशिश की।

यूपीसीए और इकाना स्टेडियम प्रबंधन के अधिकारियों के अनुसार इस सत्र में रणजी ट्रॉफी के मुकाबले यहां नहीं खेले जाने थे। इन दोनों मुकाबलों को अचानक कानपुर से इकाना शिफ्ट कर दिया गया। साथ ही पिछले दिनों कड़ाके की ठंड के चलते पिच पर घास न आने से मामला और भी बिगड़ गया। इसके चलते लाल मिट्टी वाली पिच पर मुकाबला खेलना ही एक मात्र विकल्प था। लेकिन मैच के दिन विकेट के इतना अधिक टर्न लेने का अनुमान किसी को नहीं था।

सूर्य कुमार नहीं खेल सके अपना स्वाभाविक खेल

क्रिकेट जगत के अनुसार टी-20 मुकाबलों के लिए स्टेडियम में पिचें बल्लेबाजी की अनुरूप तैयार की जाती है, जिससे बल्लेबाज खुल कर खेल सके। लेकिन यहां पर दोनों टीमों के स्पिनर को फायदा मिला। पिच की कमी के चलते विस्फोटक बल्लेबाज सूर्य कुमार को भी धैर्यपूर्वक बल्लेबाजी करनी पड़ी। इकाना की पिच को लेकर दिन भर सोशल मीडिया पर भी लोग शिकायत करते नजर आये। मैच देखने पहुंचे दर्शकों ने भी बताया कि हम टी-20 देखने गए थे, लेकिन वहां पर टेस्ट मैच चल रहा था। इसी के चलते मैच के दौरान एक भी छक्का नहीं पड़ा। मैच के बाद भारतीय टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या ने बताया कि पिच देख कर वहीं समझ गए थे कि यहां पर स्पिनर को फायदा मिलेगा।

वर्जन

पिच की खामी के कारण दोनों ही टीमों को यहां पर मैच खेलने में दिक्कतें हुईं। लेकिन आगे से ऐसा नहीं होगा। जल्द ही स्टेडियम में नया पिच क्यूरेटर नियुक्त किया जाएगा। इसके अलावा आईपीएल न होने तक यहां कोई मैच नहीं खेला जायेगा। एक माह के अंदर इकाना स्टेडियम की पिच को पहले की तरह तैयार कर लिया जायेगा।

युद्धवीर सिंह

डायरेक्टर, यूपीसीए

यह भी पढ़ें : लखनऊ : बिजली विभाग की जानकारी अब मोबाईल पर, उपभोक्ता को नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर

Post Comment

Comment List