बरेली: भोजीपुरा में एनसीईआरटी की फर्जी किताबें छाप रही फैक्ट्री पर छापा

एक ट्रक किताबें बरामद, इंडस्ट्रीयल एरिया में बिना रजिस्ट्रेशन की फैक्ट्री में लगा रखी थी प्रिंटिंग प्रेस, देर रात तक कार्रवाई जारी, बरेली से बाहर भी तमाम शहरों में सप्लाई का अंदेशा

बरेली: भोजीपुरा में एनसीईआरटी की फर्जी किताबें छाप रही फैक्ट्री पर छापा

बरेली/भोजीपुरा अमृत विचार : भोजीपुरा औद्योगिक आस्थान में बिना रजिस्ट्रेशन के चल रही फैक्ट्री में एनसीईआरटी (नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग) की फर्जी किताबें छापी जा रही थीं। शुक्रवार को एनसीईआरटी की दिल्ली से आई टीम ने पुलिस के साथ यहां छापा मारा तो एक ट्रक में भरी हजारों किताबें मौके पर ही मिलीं, जिसे कहीं भेजने की तैयारी थी। ट्रक को फिलहाल थाने में खड़ा करा दिया गया है। देर रात तक फैक्ट्री में छानबीन की जा रही थी।

ये भी पढ़ें - बरेली: त्रिशूल के आकाश पर चील और बाज... सीएआरआई के वैज्ञानिक दिलाएंगे निजात

एनसीईआरटी की टीम शुक्रवार सुबह थाना भोजीपुरा पहुंची थी, जहां से फोर्स लेकर दोपहर दो बजे उसने भोजीपुरा औद्योगिक आस्थान में एक बिना नाम के चल रही फैक्ट्री पर छापा मारा। फैक्ट्री परिसर में खड़े मिले ट्रक में ठसाठस किताबें भरी मिलीं जिसे कहीं भेजा जाने वाला था। इसके अलावा अंदर लगी प्रिंटिंग प्रेस में कई मशीनों पर लगातार किताबें छापने का काम चल रहा था। पुलिस के साथ टीम के यहां पहुंचते ही अफरातफरी मच गई। पुलिस ने किताबों से भरे ट्रक को थाने भिजवा दिया।

इसके बाद देर रात तक एनसीईआरटी की टीम फैक्ट्री में ही मौजूद रहकर उसमें छापी जा रही किताबों का ब्योरा जुटाती रही। टीम के सदस्यों ने बताया कि छानबीन पूरी होने के बाद इस मामले में पुलिस को तहरीर देकर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। फिलहाल यह भी पता नहीं चल सका कि फैक्ट्री का मालिक कौन है और फर्जी किताबों को छापने के बाद कहां-कहां खपाया जा रहा था।

ये भी पढ़ें - बरेली: 9 अप्रैल को श्याम गुणगान महोत्सव में आएंगे नंदू भैया

ताजा समाचार