Moto GP India-2023 : सीएम योगी ने निवेशकों को दिलाया भरोसा, विजेताओं को बांटे पुरस्कार   

Moto GP India-2023 : सीएम योगी ने निवेशकों को दिलाया भरोसा, विजेताओं को बांटे पुरस्कार   

गौतमबुद्धनगर, अमृत विचार। सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बुद्धा इंटरनेशनल सर्किट पर मोटो जीपी भारत -2023 की रेस के विजेताओं को पुरस्कृत किया। इसके पहले उन्होंने यूपी में निवेश की संभावनाओं और इसको लेकर सरकार की तरफ से सुरक्षा की गारंटी देने की बात दोहराई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश में सर्वाधिक आबादी वाला राज्य है। वर्तमान में प्रदेश की कुल आबादी लगभग 25 करोड़ है। प्रदेश, देश की सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। कुल आबादी का 56 प्रतिशत कार्यशील आयु समूह का होने के कारण यह भारत का सबसे युवा राज्य है। प्रदेश में खेल क्षेत्र को विकसित करने की अनेक सम्भावनाएं हैं। मोटो जीपी वर्ल्ड चैम्पियनशिप मोटरसाइकिल रेसिंग की एक प्रतिष्ठित प्रतिस्पर्धा है। उत्तर प्रदेश में इसका आयोजन हम सबके लिए अत्यन्त उत्साहवर्धक है। केंद्र और प्रदेश सरकार खेल क्षेत्र पर विशेष फोकस करते हुए इस प्रकार के इवेन्ट को आयोजित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि मोटो जीपी भारत-2023 के लिए लगभग 1 लाख से अधिक टिकटों की बिक्री हो चुकी है। इस आयोजन के साथ 275 से अधिक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ब्रांड जुड़े हुए हैं, जिसमें बीएमडब्ल्यू, टिसोट, मिशेलिन, रेड बुल, शेल, ओकले, अमेजन, डीएचएल, पेट्रोनास आदि महत्वपूर्ण ब्रांड सम्मिलित हैं। इस रेस के 20 वैश्विक आयोजनों से इन ब्रांड को प्रचार-प्रसार और संवाद का एक अद्वितीय अवसर प्राप्त होता है, जो कि यहां प्राप्त हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुरूप प्रदेश में खेल और खिलाड़ियों के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए इस आयोजन से सहायता मिलेगी। प्रदेश सरकार ने वर्ष 2011 में बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट का शुभारम्भ किया था। इसे फॉर्मूला 1 इण्डियन ग्रैंड प्रिक्स के आयोजन स्थल के रूप में जाना जाता था। मोटो जीपी रेस का आयोजन वैश्विक आटो मोबाइल उद्योग के लिए आकर्षण का एक बड़ा केंद्र है। इस आयोजन से प्रदेश और देश में ऑटोमोबाइल सेक्टर में निवेश की सम्भावनाओं में वृद्धि होगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश अनेक सम्भावनाओं वाला प्रदेश है। यह सम्भावनाएं इन्फ्रास्ट्रक्चर, रोड कनेक्टिविटी, मेट्रो सेक्टर, एयर कनेक्टिविटी, वॉटर-वे आदि क्षेत्रों में हैं। प्रदेश में लॉजिस्टिक्स के क्षेत्र में भी अपार सम्भावनाएं हैं। जिस क्षेत्र में मोटो जीपी का यह इवेंट आयोजित किया जा रहा है, यह वही क्षेत्र है जहां भारत के दो महत्वपूर्ण ईस्टर्न और वेस्टर्न डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का जंक्शन है। यहां लॉजिस्टिक्स के क्षेत्र में अपार सम्भावनाओं को आगे बढ़ाने के लिए राज्य और केंद्र सरकार के स्तर पर अनेक कदम उठाए गए हैं।

32 (23)

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक अवस्थापना के विकास के लिए अटल इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन का शुभारम्भ किया जा चुका है। पीएम गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान ने प्रदेश में औद्योगिक और अवसंरचनात्मक निवेश के लिए नया इकोसिस्टम प्रदान किया है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निवेश की सम्भावनाएं बेहतर हुई हैं। इन सम्भावनाओं के लिए प्रदेश को अनेक सुधारात्मक कदम उठाने पड़े व सुरक्षा का बेहतर वातावरण देना पड़ा। प्रदेश ने ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में सफलतम रैंकिंग के पश्चात तकनीक का उपयोग करते हुए जिन कार्यक्रमों को आगे बढ़ाया है उसी का परिणाम है कि निवेशकों द्वारा किए जाने वाले एमओयू का प्रदेश सरकार निवेश सारथी के माध्यम से मॉनीटरिंग करती है व इसे क्रियान्वित करने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य करती है। 

ये भी पढ़ें -I.N.D.I.A.को लेकर मंत्री एके शर्मा बोले- 28 फ्यूज बल्बों का एक झालर है यह गठबंधन

Post Comment

Comment List

Advertisement