स्वामी प्रसाद मौर्य के विवादित बयान के बीच अखिलेश यादव बड़ा बयान, जानें क्या कहा...

स्वामी प्रसाद मौर्य के विवादित बयान के बीच अखिलेश यादव बड़ा बयान, जानें क्या कहा...

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने आज गुरुवार को राजधानी लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय से सामाजिक न्याय यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान अखिलेश यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य की देवी लक्ष्मी पर दिए गए विवादित के बीच कहा कि सपा का स्पष्ट मानना है कि कभी भी धर्म पर चर्चा नहीं होनी चाहिए। हमारी पार्टी का मानना है कि लोग जैसे हैं वैसे ही उन्हें स्वीकार करें, चाहे उनका धर्म कुछ भी हो। समाजवादी पार्टी सिद्धांतों पर चलने वाली पार्टी है। 

इसके साथ ही उन्होंने ने बताया कि सपा की तरफ से निकाली जा रही इस यात्रा का उद्देश्य जातिगत जनगणना, लोकतंत्र बचाओ और संविधान बचाओ जागरूकता का प्रचार और प्रसार करना है। अखिलेश यादव का कहना है कि बेरोजगारी, पुरानी पेंशन बहाली और शिक्षा के नाम पर हो रहे व्यापार को रोकने के लिए इस यात्रा को निकाला जा रहा है।

इस दौरान अखिलेश यादव ने भाजपा की केंद्र और यूपी सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि यूपी में डबल इंजन की सराकर होने के बाद भी राज्य के गरीब, किसान, मजदूर, पिछड़े, दलित, आदिवासी अल्पसंख्यक को अभी तक उनका हक और सम्मान नहीं दे पाई है। ऐसे में उनकी यह सामाजिक न्यया यात्रा अपने कई सवालों को लेकर जनता को जागरूक करने का काम करेगी।

अखिलेश यादव ने प्रदेश मुख्यालय से 9 दिवसीय सामाजिक न्याय यात्रा का हरी झंडी दिखाई। सपा की यह सामाजिक न्याय यात्रा 9 दिनों तक जारी रहेगी, जिस दौरान यह राज्य के कई जिलों से होकर गुजरेगी और इसका समापन 25 नवंबर को बिजनौर में होगा। 

ताजा समाचार

Online Jobs Apply