Kanpur News: IRCTC ने शहर में 283 अकाउंट किए ब्लैक लिस्ट... रेल टिकट के कालेधंधे से जुड़े थे तार, ऐसे हुआ खुलासा

कानपुर में आईआरसीटीसी ने शहर में 283 अकाउंट किए ब्लैक लिस्ट।

Kanpur News: IRCTC ने शहर में 283 अकाउंट किए ब्लैक लिस्ट... रेल टिकट के कालेधंधे से जुड़े थे तार, ऐसे हुआ खुलासा

कानपुर में आईआरसीटीसी ने शहर में 283 अकाउंट ब्लैक लिस्ट किए। दूसरों की आईडी पर अकाउंट खुले थे। रेल टिकट के कालेधंधे से तार जुड़े थे।

कानपुर, अमृत विचार। आईआरसीटीसी ने शहर के 283 अकाउंट को ब्लैक लिस्ट कर दिया है। इनमें ज्यादातर वह अकाउंट हैं जो दूसरों की आईडी पर बने थे या जिनके तार रेलवे टिकट की कालाबाजारी से जुड़े थे। हाल ही में आरपीएफ ने ऐसे दस अकाउंट को ब्लैक लिस्ट करने की संस्तुति की थी। 

आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर शहर के लगभग आठ हजार अकाउंट हैं। इनसे शहरवासी ऑलाइन रेलवे टिकट बुकिंग सहित रेलवे की अन्य सुविधाओं का लाभ उठाते हैं। ब्लैक लिस्टेड किए गए अकाउंट में ऐसे अकाउंट को भी शामिल किया गया है, जो लंबे समय से उपयोग में नहीं आ रहे हैं। अधिकारियों की माने तो नए साल में अभी और अकाउंट को ब्लैक लिस्ट किए जाने की संभावना है। इसके लिए लगातार अकाउंट को जांचा जा रहा है। 

हाल ही में शामिल 10 अकाउंट

आरपीएफ ने शहर में गलत तरह से टिकट बुक करने वाले और उससे लाभ कमाने वाले लोगों के विरुद्ध छापेमारी की थी। यह छापेमारी दबौली, रेल बाजार, बर्रा सहित अन्य स्थानों में हुई थी। इसके बाद आरपीएफ ने दस ऐसे अकाउंट को ब्लॉक किए जाने की संस्तुति की  थी, जो टिकट बनाने के उपयोग में लाई गई थीं। 

नहीं आया कोई जवाब

आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने बताया कि जनवरी 2022 से अगस्त 2023 के बीच विभाग के आईटी विशेषज्ञों ने आरपीएफ के साथ संयुक्त कार्य कर एनसीआर रीजन में 600 से अधिक फर्जी व दूसरे की आईडी पर बने अकाउंट को चिन्हित किया था। इन एकाउंट को रिमाइंडर भेजा गया था। लेकिन कोई जवाब नहीं आया। इससे यह मान लिया गया कि धारक अब अकाउंट इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। लिहाजा इनको भी ब्लॉक कर दिया गया है। 

आठ हजार शहवासियों के पास अकाउंट

कानपुर में आईआरसीटीसी के आठ हजार से अधिक यूजर अपने मोबाइल या लैपटॉप से रेल टिकटों की बुकिंग करते हैं। इसके अलावा एक दर्जन से अधिक आईआरसीटीसी के वेंडर्स हैं। जिनको टिकट बुकिंग कर बिक्री के लिए विभाग की तरफ से अधिकार दिया गया गया है।  

तत्काल में करते हैं खेल

आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर आम उपभोक्ता के लिए तत्काल का टिकट बुक कराने और वेंडर को टिकट बुक कराने में आधे घंटे का अंतर होता है। ऐसे में रेलवे टिकट में तत्काल का खेल करने वाले लोग दूसरे की आईडी का इस्तेमाल कर अकाउंट खोलते हैं। इस अकाउंट पर तत्काल की टिकट बुक करके ग्राहक को ऊंचे दाम पर बेच देते हैं।

ये भी पढ़ें- UP STF Encounter: जिस प्रेमिका का थामा हाथ… राशिद ने उसी के पिता के साथ मिलकर खड़ा किया गैंग और करने लगा लूट

Online Jobs Apply