बरेली के निगम कर्मी के बेटे की मिलक में बदमाशों ने मारी गोली, मौत

मिलक में रामनगर गांव के सामने हाईवे पर पड़ा मिला शव

बरेली के निगम कर्मी के बेटे की मिलक में बदमाशों ने मारी गोली, मौत

बरेली, अमृत विचार। किला थाना क्षेत्र के नगर निगम कर्मी के बेटे की रामपुर के मिलक में गोली मारकर हत्या कर दी गई। उसका शव गांव रामनगर के सामने हाईवे किनारे पड़ा मिला। पुलिस ने युवक की जेब से मिले आधार कार्ड से शिनाख्त करने के बाद परिजनों को सूचना दी।

यह भी पढ़ें- बरेली: सुनो आपके रुपए नीचे गिर गए हैं...टप्पेबाज ने शख्स को लगाया चूना, कार से लाखों का सामान ले उड़ा

रविवार सुबह मिलक थाना क्षेत्र के गांव रामनगर के सामने हाईवे पर एक युवक का शव पड़ा मिला। वहां से गुजर रहे राहगीरों की सूचना पर पहुंची मिलक पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी। वारदात स्थल पर युवक के सिर में लगी गोली आर-पार हो गई थी। जिससे अंदेशा जताई जा रही है कि गोली उसके सिर में सटाकर मारी गई है।

घटनास्थल पर काफी खून भी बहा था। पुलिस ने युवक जेब से मिले आधार कार्ड के जरिए उसकी पहचान की। मृतक की पहचान बरेली के किला थाना क्षेत्र स्थित मोहल्ला चंदननगर निवासी सचिन (28) के रूप में हुई। जिसके पिता सतीश नगर निगम कर्मी हैं। पुलिस ने किला थाना प्रभारी राजीव कुमार से संपर्क कर जानकारी दी। किला पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचना दी। परिजन आनन-फानन में मौके पर पहुंचे।

सिर से बह रहा था खून
पुलिस के अनुसार सचिन के सिर से काफी खून बह रहा था। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि सचिन की हत्या सुबह के समय हुई थी। उसकी बाइक भी घटनास्थल से करीब 100 मीटर की दूरी से पुलिस ने बरामद की। हालांकि, पुलिस हर एक पहलू पर जांच कर रही है। फॉरेंसिक टीम ने भी मौके से कई साक्ष्य जुटाए हैं।

तीन दिन से घर नहीं आया था युवक
पिता सतीश कुमार ने पुलिस को बताया कि सचिन की शादी करीब डेढ़ वर्ष पहले रामपुर के मोहल्ला मदरसा कोना निवासी नैना से हुई थी। ससुराल वालों ने सचिन को बाइक न देकर नकद पैसा दिया। जिसमें से कुछ पैसा ससुराल वालों पर बकाया था। इसको लेकर अक्सर सचिन व उसके ससुराल वालों में विवाद होता रहता था।

चार दिन पहले सचिन का बड़ा साला विनय तीन अन्य लोगों के साथ आया और उसकी पत्नी नैना को अपने साथ ले गया। इसके अगले दिन सचिन बाइक लेकर घर से निकला था। अक्सर वह कई-कई दिन घर नहीं आता था। जिस पर उन्होंने उसकी तलाश नहीं की।

शाम तक नहीं पहुंची पत्नी व ससुराल पक्ष के लोग
सचिन की हत्या की खबर जैसे ही परिजनों को मिली तो उन्होंने इसकी सूचना तुरंत मायके में रह रही उसकी पत्नी नैना और ससुराल वालों को दी। बरेली से परिजन घटनास्थल पर पहुंच गए, लेकिन ससुराल पक्ष से कोई नहीं आया। देर शाम पोस्टमार्टम हाउस पर भी न तो पत्नी पहुंची और न ही ससुराल पक्ष के लोग। पीड़ित पिता ने बताया कि ससुराल पक्ष के लोग कई बार सचिन को धमकी दे चुके थे।

बेटी के निधन के बाद से सचिन था परेशान
किला थाना प्रभारी राजीव कुमार ने बताया कि सचिन की बेटी का हाल ही में निधन हो गया था। जिसके बाद से वह परेशान रहता था। वह इस कदर परेशान था कि पत्नी समेत घरवालों को भी जान से मारने की धमकी देता था। जिसे लेकर उसकी पत्नी ने 23 जनवरी को उसके खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी।

मामले में परिजनों ने अभी कोई तहरीर नहीं दी है। मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी---आसाराम, इंस्पेक्टर क्राइम मिलक थाना।

निगमकर्मी के बेटे की मिलक में गोली मारकर हत्या की सूचना मिली थी। इसकी जानकारी परिजनों को दे दी गई है। घटनास्थल मिलक थाना क्षेत्र का है। इसलिए जो भी कार्रवाई करेगी, मिलक पुलिस ही करेगी---राजीव कुमार, किला थाना प्रभारी।

यह भी पढ़ें- बरेली: चोरी की घटनाओं का खुलासा, तीन बदमाश गिरफ्तार

ताजा समाचार