मोटे अनाजों के प्रयोग व प्रचार-प्रसार पर काम करें : डॉ. बिजेंद्र

एबीवीपी का विद्यार्थी कुंभ जिला सम्मेलन आयोजित

 मोटे अनाजों के प्रयोग व प्रचार-प्रसार पर काम करें : डॉ. बिजेंद्र

अमृत विचार,अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय के किसान भवन मैदान में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का विद्यार्थी कुंभ जिला सम्मेलन आयोजित हुआ। 

कुलपति डॉ. बिजेंद्र सिंह ने सम्मेलन को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कहा कि एबीवीपी एक राजनीतिक मंच नहीं बल्कि एक सामाजिक समूह है। उन्होंने अपील किया कि मोटे अनाजों के प्रयोग एवं प्रचार-प्रसार पर काम करें। सम्मेलन में पहुंचे हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास ने कहा कि विद्यार्थी परिषद संगठन विश्व बंधुत्व के भाव से कार्य करता है और यही हमारी सनातन परंपरा है। इस दौरान उन्होंने मंच से बिना नाम लिए स्वामी प्रसाद मौर्य पर जमकर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग जातियों में लोगों को बांटकर राजनीति कर रहे हैं। एबीवीपी के प्रांत उपाध्यक्ष सुभाष महर्षि ने कहा कि विद्यार्थी परिषद भारत की रक्षा और स्वाभिमान को आगे ले जाने का काम कर रहा है। 

रामचरण स्मारक इंटर कॉलेज, चंद्रबली सिंह पीजी कॉलेज व राष्ट्रीय विद्यापीठ इंटर कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने विवि परिसर से कुमारगंज तक शोभायात्रा निकाली। डीएवी की छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। कुलपति ने छात्राओं को ध्येय यात्रा पुस्तक व स्मृति चिह्न भेंट किया। एबीवीपी की ईकाई मंत्री अंकिता यादव व अमित मिश्रा ने प्रस्ताव पाठ पढ़ा। कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन डॉ. सोनू जायसवाल व स्वागत प्रस्ताव डॉ. रमेश मिश्र ने किया।

यह भी पढ़ें : अयोध्या : कार्यशाला में दिया संदेश, जीवन चुनें तम्बाकू नहीं

ताजा समाचार

Kanpur: धूप-छांव के बीच पारा 40 के पार, मौसम वैज्ञानिकों ने कहा- छाए रहेंगे हल्के बादल, बारिश को लेकर कही यह बात...
Kanpur Dehat: रनियां में बवाल के तीसरे दिन PAC तैनात...घरों में दुबके लोग, सड़कों पर छाया सन्नाटा, अब तक 12 जा चुके जेल
काशीपुर: दुकान के बाहर खड़ा जनरेटर ई-रिक्शा में बांधकर ले गए चोर
छत्तीसगढ़ के बीजापुर में 33 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, तीन पर पांच लाख रुपये का था इनाम
अयोध्या: परानापुर में जल निगम की टीम ने डाला डेरा, पानी की जांच के लिए पहुंची टीम ने कई घरों से लिए सैंपल
रुद्रपुर: गोद भराई के बाद फौजी ने मांगी कार, नगदी और सोने का कड़ा