प्रयागराज: 72 घंटे के अल्टीमेटम के बाद भी नहीं मिला वेतन, कर्मचारियों ने किया जमकर हंगामा

प्रयागराज: 72 घंटे के अल्टीमेटम के बाद भी नहीं मिला वेतन, कर्मचारियों ने किया जमकर हंगामा

प्रयागराज। सुआट्स कालेज (सैम हिगिन्नबॉटम यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर, टेक्नोलॉजी एंड साइंसेज) में वेतन को लेकर लगातार बवाल बढ़ता जा रहा है। गुरूवार को एक बार फिर शिक्षकों ने वेतन को लेकर कालेज कैम्पस में बवाल कर दिया। बवाल और हंगामे की सूचना पर एसडीएम करछना और एसीपी ने फोर्स के साथ पहुंचकर कर्मचारियों को समझाने का प्रयास किया।

कर्मचारियों का कहना है कि सिर्फ समय दिया जा रहा है वेतन के नाम पर कर्मचारियों को परेशान किया जा रहा है। इससे पहले भी वेतन देने के लिए समय दिया गया था। लेकिन सम्ह बीतने के बाद भी वेतन नहीं मिल सका। बता दें कि सुआट्स कालेज के निदेशक प्रशासन के जेल जाने के बाद से कालेज की स्थित लगातार बिगड़ती जा रही है। इस समय चार्ज में सीजे वैशली आफिसियटिंग रजिस्ट्रार के पद पर है।

वही डाक्टर इम्तियाज रिटायर्ड डायरेक्टर इंटरनेशनल है। कॉलेज प्रशासन के जेल जाने के बाद से कालेज में काम करने वाले कर्मचारियों और सुरक्षाकर्मियों को समय पर वेतन मिलना तो दूर उन्हे वेतन दिया ही नहीं जा रहा है। बिगड़ते हालात और तंगी में जी रहे कर्मचारियों का गुस्सा गुरुवार को फिर एक पढ़ा फिर फूट पड़ा। कर्मचारियों ने फाइनेंस कार्यालय के सामने इकठ्ठा होकर हंगामा करना शुरु कर दिया।

हंगामे की सूचना मिलने पर एसडीएम करछना राजेश श्रीवास्तव और एसीपी करछना मौके पर पहुंच गये। कर्मचारियों का कहना है कि  कालेज प्रशासन ने 72 घंटे का समय दिया था। 16 नवंबर को सैलरी देने की बात की गयी थी।  शुक्रवार को 72 घंटे का समय पूरा होगा। लेकिन कर्मचारियों के वेतन को लेकर कोई वार्ता नहीं हो सकी है। कई बार विरोध किया लेकिन कुछ नहीं हो सका। घंटो चले हंगामे में कर्मचारियों का कहना था कि रजिस्ट्रार को बुलाया जाये। कर्मचारियों की मांग पर अधिकारियों ने बुलाने का आश्वासन दिया है।

कर्मचारियों ने बताया अब फाइनेंस विभाग में मौजूद रंजन जॉन, अमित कुमार, जय नरायन रिटायर्ड होने के बाद भी डबल सैलरी ले रहे है। वेतन को लेकर फाइनेंस का कोई भी कर्मचारी बात सुनने को तैयार नहीं है। मालूम हो कि कॉलेज में लगाई गयी एडवांस इंडियन एजेंसी के 300 गार्ड कार्यरत है। जिन्हे भी दस महीने से वेतन नहीं मिला है। वेतन मांगने पर उन्हे बाहर करने कि लगातार धमकी दी जाती है। पहले भी सुरक्षा एजेंसी के मालिक राकेश दुबे ने कालेज प्रशासन से बात किया कि, लेकिन कोई रास्ता नहीं निकल सका। 

तीन सौ गार्डों को नहीं मिला है वेतन 

सुआट्स कॉलेज में तीन सौ गार्ड लगाए गये है। जिसने 26 दिन ड्यूटी करना होता है। आठ घंटे की ड्यूटी का उन्हें 8326 रुपये दिया जाता है। सुआट्स कॉलेज से मिलने वाले भुगतान के बाद उन्हें एजेंसी वेतन देता है। इधर आठ महीने से कॉलेज प्रशासन ने वेतन नहीं दिया है। जिसकी वजह से इनका वेतन रुका है।
जिनका परिवार भुखमरी की कगार पर है।

यह भी पढ़ें: सुब्रत रॉय सहारा का आज बैकुंठ धाम में होगा अंतिम संस्कार, दोपहर 12 बजे निकाली जाएगी अंतिम यात्रा

ताजा समाचार

बरेली: आबकारी सिपाही युवती पर शादी करने का बना रहा दबाव, कहा- बदनाम कर दूंगा
पीलीभीत: आज से 76 केंद्रों पर होंगी यूपी बोर्ड की परीक्षा, इंतजाम सख्त... तैयारी पूरी
बोर्ड परीक्षा: बच्चों में बढ़ रहा परफॉर्मेंस एंग्जाइटी का खतरा, परिजन परेशान...करें ये काम
बरेली: आत्महत्या से पहले बनाई वीडियो लेकिन जांच में नहीं जिक्र, पुलिस पर मिलीभगत का आरोप...जानिए मामला
बरेली: भाजपा में शामिल हुए सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष जफर बेग, डिप्टी सीएम की मौजूदगी में ली सदस्यता
आंवला के किसान ट्रैक्टरों के साथ पहुंचे कलेक्ट्रेट, प्रदर्शन कर की नारेबाजी