मुरादाबाद: सरिया-सीमेंट के व्यापारियों को ठगने वाले गैंग के सदस्य ने उगले राज

दलपतपुर में पकड़ा गया था इसरार, उत्तराखंड के हैं गैंग के सभी सदस्य, पांच पर लिखाई एफआईआर, कार पर सवार होकर बड़े ठाठ-बांठ से निकलकर व्यापारी व जरूरतमंत दोनों को फंसाते हैं शातिर

मुरादाबाद: सरिया-सीमेंट के व्यापारियों को ठगने वाले गैंग के सदस्य ने उगले राज

मुरादाबाद, अमृत विचार। व्यापारी ने जालसाजी-धोखाधड़ी के मामले में उत्तराखंड के पांच लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई है। ये सभी उधम सिंह नगर जिले के हैं। इनमें कटोरा ताल काशीपुर में मुंशी राम चौराहा निवासी इसरार, सरवर खेड़ा काशीपुर का सोनू उर्फ उमर, शामशान घाट काशीपुर पोस्ट अली खां का मोहसिन, मुहल्ला कीला शमशान घाट काशीपुर का सलमान और कटोरा ताल मानपुर रोड काशीपुर का शिवम नामजद हुए हैं। रविवार को एक आरोपी को दलपतपुर चौराहे पर पीड़ित और आसपास के लोगों ने दबोच भी लिया था। 

पकड़े गए आरोपी ने दलपतपुर चौराहे पर दाऊद सरिया-सीमेंट स्टोर से धोखेबाजी कर बिना पैसे दिए 10 क्विंटल सरिया ली थी। आरोपी इसरार के पकड़े जाने की खबर पाकर उस्मान भी दलपतपुर चौराहा पर पहुंच गए थे। इन्होंने इसी इसरार के द्वारा अपने को भी ठगे जाने को बताया था। उस्मान के मुताबिक, उनकी दुकान से आरोपी इसरार ने ही 99,000 रुपये की कीमत वाली 18 क्विंटल सरिया धोखेबाजी से ही ले गया था। रुपये भी नहीं दिए और उलटे उस्मान को जान से मार देने की बात कहकर धमकाया भी था। 

धोखेबाजी का शिकार हुए उस्मान रामपुर दोराहा बरवाला मझरा के रहने वाले हैं। इनकी काशीपुर रोड पर सेफी आयरन स्टोर के नाम से सरिया-सीमेंट की दुकान है। उस्मान ने बताया कि इसरार और इसके अन्य साथी उनकी दुकान पर 18 नवंबर दोपहर 12.30 बजे आए थे। इस मामले में सीओ कटघर डॉ. गणेश कुमार गुप्ता ने बताया कि सरिया-सीमेंट वाले व्यापारियों से ठगी करने वाले गैंग के एक सदस्य इसरार को रविवार को पकड़ा गया था। इसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। अभी तक पता चला है कि इन लोगों ने जिले के कई थाना क्षेत्र में व्यापारियों को ठगा है। इस मामले की विवेचना वरिष्ठ उप निरीक्षक सत्येंद्र सिंह उज्जवल कर रहे हैं।

इस तरह कारोबारी से करते हैं ठगी
पुलिस के मुताबिक, पांचों व्यक्तियों का अंतरराज्यीय गैंग है। ये लोग मुख्य रूप से सरिया-सीमेंट के कारोबारी को ही निशाना बनाते हैं। यह लोग मुरादाबाद जिले में अधिक सक्रिय दिख रहे हैं। पिछले दिनों से अब तक इन लोगों डिलारी, भोजपुर, मूंढापांडे और कटघर थाना क्षेत्र में छह-सात व्यापारियों से धोखाधड़ी कर बिना रुपये दिए सरिया ले ली और जान से मार देने को धमकाया भी है। पुलिस के अनुसार, ये शातिर व्यक्ति बड़े ठाठ-बांठ से कार (यूपी-11-बीक्यू-7677) पर सवार होकर घटना को अंजाम देने को निकलते हैं। कार उनके साथी सोनू की है। गैंग के लोग कारोबारी को ठगने से पहले आसपास क्षेत्र का दौरा करते हैं और जहां भी भवन निर्माण कार्य चल रहा होता है, वहां पहुंचकर निर्माणाधीन भवन स्वामी से सस्ती दर पर सरिया मौके पर ही उपलब्ध कराने का सौदा करते हैं। संबंधित व्यक्ति को संदेह न हो सके, इसलिए वह अपने को सरिया निर्माण कंपनी का व्यक्ति होना बताकर उसे बहला लेते हैं। गैंग के सदस्य निर्माणाधीन भवन स्वामी से कहते हैं कि वह कंपनी के हैं, इसलिए केवल लागत की दर सरिया देंगे। इस तरह यह लोग 80-90,000 रुपये की कीमत वाली सरिया को वह 40-45,000 रुपये में बेचते हैं।

व्यापारी को नंबर भी देते, पैसा मांगने पर धमकाते
पुलिस के मुताबिक, गैंग के सदस्य जिस व्यापारी के यहां सरिया का सौदा करते हैं, उसे पूरे विश्वास में लेकर उसे अपना मोबाइल नंबर भी देते हैं। मौके पर माल पहुंचने पर ही कारोबारी के सहयोगी को धनराशि का भुगतान देने की बात कहते हैं। फिर सरिया लेकर पहुंचने वाले व्यक्ति को भी भरमाकर वह लोग निर्माणाधीन भवन स्वामी से रुपये लेकर फरार हो जाते हैं। यदि कारोबारी भुगतान पाने के लिए उन लोगों को फोन करता है तो वह गाली-गलौज कर जान से मार देने को धमकाते भी हैं।

ये भी पढ़ें:- मुरादाबाद : बूंदाबांदी से और बढ़ी ठंड, ठिठुरे लोग...तापमान में कमी

Online Jobs Apply