पीलीभीत: सपा कार्यालय पर वोटों के मंथन में दिखे कुछ ऐसे चेहरे कि मिलने लगे सवालों के जबाव, प्रत्याशी भी थे मौजूद

पीलीभीत: सपा कार्यालय पर वोटों के मंथन में दिखे कुछ ऐसे चेहरे कि मिलने लगे सवालों के जबाव, प्रत्याशी भी थे मौजूद

पीलीभीत, अमृत विचार। लोकसभा चुनाव को लेकर पहले चरण में शुक्रवार को हुए मतदान के बाद प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हो चुकी है। जीत-हार को लेकर गणित राजनीतिक दलों के पदाधिकारी, प्रत्याशी के साथ ही मतदाता भी लगा रहे हैं।  भाजपा और सपा के बीच कांटे की टक्कर के रुझान सामने आने के बाद मंथन तेज हो चुका है। 

वहीं, कमल खिलने के लिए हाथी की चाल का भी अनुमान लगाया जा रहा है। खैर, ईवीएम में कैद मतदाताओं का फैसला चार जून को सामने आएगा। मगर मतदान के दूसरे दिन चुनावी कार्यालयों में सन्नाटा पसर गया। भाजपा के कार्यालय पर कुछ कार्यकर्ता थे तो बसपा का चुनाव कार्यालय बंद था। 

मगर सपा के चुनाव कार्यालय पर प्रत्याशी भगवत सरन गंगवार बैठक कर समर्थकों संग वोटों के गणित पर चर्चा कर रहे थे। इस बीच कुछ ऐसे चेहरे भी वहां दिखे जिससे कई सवालों के जबाव भले खुलकर न मिले हो लेकिन इशारा तो कर ही गए।

मतदान के दूसरे ही दिन शनिवार को भाजपा-सपा या फिर भाजपा। तीनों के ही चुनाव कार्यालयों में सन्नाटा दिखा। शुक्रवार तक जहां लोगों की भीड़ थी। दिन-रात आवाजाही बनी हुई थी और रोशनी से जगमग हो रहे थे।वह दूसरे ही दिन  सूनसान हो गए। कहीं ताला लटका मिला तो कहीं चंद लोग। इक्का-दुक्का लोग मौजूद मिले, लेकिन जिम्मेदार पदाधिकारी और नेता नहीं थे। 

जिन कार्यालयों के आगे लग्जरी कारों की कतार लगी रहती थी, अब वह सब गायब थी।  अमृत विचार की टीम ने शनिवार को चुनाव कार्यालयों के हालात परखे तो सपा को छोड़ अन्य किसी दल में प्रत्याशी या फिर अन्य जिम्मेदार नहीं दिखे। सपा प्रत्याशी कार्यालय में थे। इस  दौरान कुछ ऐसे चेहरे भी थे, जिनको लेकर चर्चाएं बढ़ गईं।

ये भी पढे़ं- पीलीभीत: हाईस्कूल में 84.51, इंटरमीडिएट में 81.58 फीसदी रहा रिजल्ट

 

ताजा समाचार