रोमांचक मुकाबले में मिलर की अर्धशतकीय पारी से दक्षिण अफ्रीका ने नीदरलैंड को हराया

रोमांचक मुकाबले में मिलर की अर्धशतकीय पारी से दक्षिण अफ्रीका ने नीदरलैंड को हराया

न्यूयॉर्क। ओटनील बार्टमैन, मार्को यानसेन और एनरिच नोर्किया की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद डेविड मिलर (नाबाद 59) की सूझबूझ भरी बल्लेबाजी से दक्षिण अफ्रीका ने आईसीसी टी20 विश्व कप ग्रुप डी मैच में शनिवार को यहां नीदरलैंड को चार विकेट से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। मिलर ने 51 गेंद की नाबाद पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाने अलावा पांचवें विकेट के लिए ट्रिस्टन स्टब्स (33) के साथ 65 रन की साझेदारी कर विश्व कप में एक और उलटफेर होने से रोक दिया। 

बल्लेबाजी के लिए मुश्किल पिच पर नीदरलैंड को नौ विकेट पर 103 रन पर रोकने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने सात गेंद शेष रहते छह विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर दो मैचों में दूसरी जीत दर्ज की। दक्षिण अफ्रीका ने पांचवें ओवर में 12 रन तक चार विकेट गंवा दिये थे जिससे लग रहा था कि पिछले साल एकदिवसीय विश्व कप में उन्हें हराने वाली डच टीम एक बार फिर उलटफेर करेगी।

 मिलर और स्टब्स ने हालांकि इसके बाद संभल कर खेलते हुए टीम को संकट से बाहर निकाला। नीदरलैंड के लिए विवियन किंगमा और लोगन वैन बीक ने दो-दो जबकि बैस डी लीडे ने एक विकेट लिया। इससे पहले नीदरलैंड की टीम भी 48 रन पर छह विकेट गंवा कर बेहद खराब स्थिति में थी लेकिन साइब्रांड एंजेलब्रेच (40) और वैन बीक (23) ने सातवें विकेट के लिए 45 गेंद में 54 रन की साझेदारी कर टीम के स्कोर को 100 रन के पार पहुंचाया। एंजेलब्रेच ने 45 गेंद की पारी में दो चौके और एक छक्का लगाया तो वहीं वैन बीक ने 22 गेंद की पारी में तीन चौके लगाये। 

विक्रमजीत सिंह (12) और कप्तान स्कॉट एडवर्ड्स (10) दहाई के अंक में रन बनाने वाले चार बल्लेबाजों में शामिल रहे।  बार्टमैन ने चार ओवर में 11 रन देकर चार विकेट लिये जिसमें आखिरी ओवर में सिर्फ एक रन खर्च कर उन्होंने तीन विकेट झटके। नोर्किया ने 19 और यानसेन ने 20 रन देकर दो-दो विकेट लिये। 

लक्ष्य का बचाव करते हुए नीदरलैंड ने पांचवें ओवर में 12 रन तक चार विकेट झटक कर दक्षिण अफ्रीका पर दबाव बना दिया। क्विंटन डिकॉक पहली गेंद पर स्ट्राइक लिये बगैर रन आउट हो गये। वैन बीक ने रिचा हेंड्रिक्स (तीन) तो वहीं किंगमा ने एडेन मार्कराम (शून्य) और हेनरिच क्लासेन (चार) को पवेलियन की राह दिखायी। पावरप्ले में टीम का स्कोर चार विकेट पर 16 रन था। मिलर और स्टब्स ने इसके बाद संभल कर बल्लेबाजी करते हुए टीम विकेट बचाने पर ध्यान दिया। मिलर ने नौवें ओवर में पॉल वैन मीकेरन के खिलाफ टीम का पहला चौका जड़।

 उन्होंने 12वें ओवर में प्रिंगल के खिलाफ छक्के से टीम के रनों का पचासा पूरा किया। दूसरे छोर से अब तक संभल कर बल्लेबाजी कर रहे स्टब्स ने 14वें ओवर में गेंदबाजी के लिए आये विक्रमजीत सिंह के खिलाफ छक्का और फिर वैन बीक की गेंद पर चौका लगाकर हाथ खोला। दक्षिण अफ्रीका को आखिरी पांच ओवर में 29 रन चाहिये थे और मीकेरन ने मेडन ओवर डाला और डी लीडे ने अगले ओवर में स्टब्स को आउट कर शानदार साझेदारी का अंत किया। 

मिलर ने वैन बीक के खिलाफ छक्का लगाया लेकिन इस गेंदबाज ने यानसेन (तीन) को बोल्ड कर मैच में रोमांच बनाये रखा। मिलर ने 19वें ओवर में डी लीडे के खिलाफ दो छक्के और चौका जड़ टीम को जीत दिलाने के दौरान अपना अर्धशतक भी पूरा किया। इससे पहले नीदरलैंड के बल्लेबाजों को भी रन बनाने में परेशानी हुई। यानसेन ने शुरुआती ओवर में ही माइकल लेविट (शून्य) को चलता किया। 

इस विकेट में हालांकि विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक का भी हाथ रहा। गेंद के बल्ले को छूकर उनके दस्तानों में गयी लेकिन गेंदबाज ने अपील नहीं की। डिकॉक ने कप्तान मार्कराम को रिव्यू लेने के लिए कहा और यह सफल रहा।   बार्टमैन ने चौथे ओवर में मैक्स ओ’डाउड (दो) तो वहीं यानसेन ने पांचवें ओवर मे विक्रमजीत  को पवेलियन भेजा। पावर प्ले में नीदरलैंड की टीम तीन विकेट पर महज 20 रन ही बना सकी। 

नोर्किया ने पारी के 10वें ओवर में डी लीडे (छह) को आउट किया लेकिन उनके अगले ओवर में एडवर्ड्स ने रिवर्स स्कूप शॉट से छक्का लगा कर 64 गेंद के बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। वह हालांकि अगली गेंद पर मार्कराम के थ्रो पर रन आउट हो गये। तेजा निदामनुरु भी बल्ले से कोई योगदान दिये बिना इसी ओवर में आउट हो गये। इसके बाद एंजेलब्रेच एक छोर से संभल कर बल्लेबाजी करते हुए टीम को 13वें ओवर में 50 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने केशव महाराज के खिलाफ 15वें ओवर में चौका जड़ा जो टीम की सिर्फ तीसरी बाउंड्री थी। 

उन्होंने और वैन बीक ने 17वें ओवर एक-एक चौका लगाकर रनगति को थोड़ा तेज किया। दोनों ने 19वें ओवर में रबाड़ा के खिलाफ 15 रन बटोर कर टीम के रनों का शतक पूरा किया। इसमें एंजेलब्रेच ने छक्का जबकि वैन बीक ने चौका शामिल था। बार्टमैन ने आखिरी ओवर में दोनों बल्लेबाजों के साथ टिम प्रिंगल (शून्य) को आउट कर नीदरलैंड को 103 रन पर रोक दिया।

ये भी पढ़ें- भारतीय महिला हॉकी टीम जर्मनी से 2-4 से हारी, एफआईएच प्रो लीग में लगातार सातवीं हार 

ताजा समाचार