Kanpur: सिपाही ने पत्नी को पीटा, फांसी पर लटकाने का किया प्रयास; पीड़िता बोली- दूसरे समुदाय की महिला से हैं पति के संबंध, पढ़ें पूरा मामला

Kanpur: सिपाही ने पत्नी को पीटा, फांसी पर लटकाने का किया प्रयास; पीड़िता बोली- दूसरे समुदाय की महिला से हैं पति के संबंध, पढ़ें पूरा मामला

कानपुर, अमृत विचार। कानपुर पुलिस लाइन में तैनात सिपाही पर अपनी पत्नी के साथ मारपीट करने और फांसी पर लटकाने के प्रयास का आरोप लगा है। सिपाही के पत्नी को प्रताड़ित करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। मंगलवार को पीड़िता पुलिस कमिश्नर के यहां पहुंची और शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद सिपाही, उसके ससुर, पत्नी के बीच बातचीत के छह ऑडियो भी वायरल हो गए। डीसीपी मुख्यालय के अनुसार जांच एसीपी पुलिस लाइन को सौंपी है।

जिला मैनपुरी निवासी महिला की शादी पुलिस लाइन में तैनात सिपाही से 11 वर्ष पूर्व हुई थी। उनके सात वर्ष का बेटा है। महिला का आरोप है कि पति के संबंध चमनगंज निवासी एक महिला से हैं। उसने अपना धर्म परिवर्तन कर लिया और महिला के साथ रहने लगा। पत्नी को छोड़ दिया है। पत्नी का आरोप है कि दूसरी महिला के साथ मिलकर उसने दो बार उसे मारने का प्रयास किया। 

फंदा लगाकर जान से मारने का प्रयास भी किया। सात माह पहले उसने शिकायत दर्ज कराई थी मगर वह परामर्श केन्द्र भेज दी गई थी और कोई कार्रवाई नहीं हुई। मंगलवार को पीड़िता ने पुलिस कमिश्नर के यहां पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद एक मिनट का वीडियो वायरल हुआ जिसमें पीड़िता पलंग पर बैठी और सिपाही उससे चाभी मांग रहा है। इस दौरान सिपाही उसका गला पकड़कर धकेलता दिख रहा है। साथ ही उससे कुछ बोल रहा है। दूसरा वीडियो फांसी के फंदे पर लटकाने का वायरल हो रहा है।

यह भी पढ़ें- Kanpur: साढ़े 8 करोड़ रुपये से होगा 11 सड़कों का निर्माण, किदवई नगर चौराहे से बारादेवी सड़क की होगी मरम्मत

 

ताजा समाचार

Paris Olympics 2024: एंडी मरे ने पुरुष एकल टेनिस से हटे, युगल स्पर्धा में खेलेंगे
प्रतापगढ़ में ट्रक की टक्कर से बाइक सवार किशोर की मौत-बिस्किट लेकर जा रहा था घर
Unnao: उपमुख्यमंत्री से मिला किसानों का प्रतिनिधिमंडल; अधिग्रहण के दौरान 2014 में हुए करार की मांगे न पूरी होने को लेकर दिया पत्र
Kawadyatra : Muzaffarnagar में फिर कांवड़ियों कां तांडव, किस-किसको पीटा
Exclusive: 50 मिनट में कानपुर से लखनऊ पहुंचाएगी हाई स्पीड वंदे भारत मेट्रो; बिना लोकोमोटिव इंजन के मिनटों में भरेगी तेज रफ्तार
जेल से रिहा होने पर बोले उदयभान करवरिया- राजनीतिक षडयंत्र के चलते काटनी पड़ी 10 साल जेल में सजा