पीलीभीत: AC रुम में अफसर! फरियादी भी आए कम...निस्तारण और भी बेदम, जानिए पूरा मामला 

पीलीभीत: AC रुम में अफसर! फरियादी भी आए कम...निस्तारण और भी बेदम, जानिए पूरा मामला 

पीलीभीत, अमृत विचार। थाना स्तर पर फरियादियों की शिकायतों का निस्तारण करने के लिए शासन स्तर से चलाई जा रही समाधान दिवस की मुहिम औपचारिकता की भेंट चढ़ती दिखाई दे रही है। खासकर जमीन संबंधी विवाद हल नहीं हो पा रहे और अफसर भी औपचारिकता पूर्ण कार्रवाई तक सीमित रह गए हैं।

कहीं न कहीं फरियादी भी अब इससे दूरी बनाते दिखाई दे रहे है।  नतीजतन एक बार फिर शहर के दोनों थानों चंद फरियादी ही आए। ग्रामीण इलाकों में फरियादियों की संख्या अधिक रही तो निस्तारण बेदम साबित हुआ। डीएम-एसपी की मौजूदगी के बावजूद भी सिर्फ एक शिकायत ही निस्तारित की जा सकी। अफसर रटे रटाए बयान देकर चलते बने और फरियादियों को एक नई तारीख मिल गई।

जनपद के समस्त थानों पर शनिवार को समाधान दिवस का आयोजन किया गया। इसमें पूर्वान्ह दस से लेकर दो बजे तक जन सुनवाई होनी थी लेकिन आलम यह रहा कि दोपहर 12 बजे तक ही थानों पर कुर्सियां खाली पड़ी रही और अफसर मातहतों संग अन्य कामकाज निपटाने में व्यस्त हो गए। सुनगढ़ी थाने में हुए समाधान दिवस में दो शिकायतें पहुंची। जिसमें से एक शिकायत का निस्तारण कर दिया गया। यहां पर अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार यादव भी पहुंचे थे। कुछ देर तो वह प्रशासनिक टीम के साथ बाहर बैठे। 

मगर उसके बाद प्रभारी निरीक्षक के एससी रूम में जाकर बैठ गए। बाहर कुछ फरियादियों को तहसील से आए अधिकारी सुनते रहे। उसके बाद अन्य राजस्व कर्मी और पुलिस वाले भी फोन पर या फिर अन्य कामकाज में ही व्यस्त दिखे। उधर,  कोतवाली में एसडीएम सदर देवेंद्र सिंह, कोतवाल नरेश त्यागी ने सुनवाई की। मगर यहां पर सिर्फ एक ही शिकायत आई, उसका भी निस्तारण नहीं हो सका। कुछ देर लिए डीएम प्रवीण कुमार,  एसपी अतुल शर्मा भी पहुंचे और मातहतों को दिशा निर्देश देकर औपचारिकता निभा कर चले गए।  

यहां पर भी दोपहर 12 बजे तक सूनसान पड़ चुका था। जमीन संबंधी एक शिकायत पर एसडीएम के तेवर तल्ख हुए। एक महिला को विवादित जमीन बेचे जाने पर एक व्यक्ति की कड़ी फटकार लगाई। उसे महिला को बेची गई जमीन के हिस्से में काबिज कराने के निर्देश दे दिए।  यह भी चेताया कि वरना धोखाधड़ी करने पर उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।

 दरअसल, उक्त युवक महिला का पैरोकार बनकर ही कोतवाली पहुंचा था और अफसरों के सामने उस पर नकेल कस गई तो वापस जाने में ही भलाई समझी।  उधर, अमरिया थाने में एसडीएम सौरव यादव, सीओ सदर प्रतीक दहिया ने फरियादियों को सुना। मगर यहां भी जमीन के विवाद को लेकर टीम गठित करने से अधिक कुछ नहीं हो सका।

जहानाबाद में सिर्फ एक शिकायत हुई हल
थाना परिसर में आयोजित समाधान दिवस में सुबह से ही फरियादियों के लिए कुर्सियां बिछा दी गई थी।  डीएम -एसपी भी यहां पहुंचे और शिकायतें सुनी। कुल 11 शिकायतें थाने पर आई। जिसमें से निस्तारण सिर्फ एक का ही कराया जा सका। दस अन्य लंबित शिकायतों के निस्तारण के लिए  मातहतों को निर्देश दिए गए।  

यह भी पढ़ें- पीलीभीत: हाथों से उखड़ी एक और सड़क, वीडियो वायरल

ताजा समाचार

त्रिपुरा गरीबी से जूझ रही महिला ने अपने ही चार दिन की नवजात बच्ची को बेचा
Kanpur: धूप-छांव के बीच पारा 40 के पार, मौसम वैज्ञानिकों ने कहा- छाए रहेंगे हल्के बादल, बारिश को लेकर कही यह बात...
Kanpur Dehat: रनियां में बवाल के तीसरे दिन PAC तैनात...घरों में दुबके लोग, सड़कों पर छाया सन्नाटा, अब तक 12 जा चुके जेल
काशीपुर: दुकान के बाहर खड़ा जनरेटर ई-रिक्शा में बांधकर ले गए चोर
छत्तीसगढ़ के बीजापुर में 33 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, तीन पर पांच लाख रुपये का था इनाम
अयोध्या: परानापुर में जल निगम की टीम ने डाला डेरा, पानी की जांच के लिए पहुंची टीम ने कई घरों से लिए सैंपल