लखनऊ: सीएम योगी ने पीएम स्वनिधि योजना के तहत लाभार्थियों को सौंपे चेक, कहा- जनता के सहयोग से 2047 तक विकसित होगा भारत!

लखनऊ: सीएम योगी ने पीएम स्वनिधि योजना के तहत लाभार्थियों को सौंपे चेक, कहा- जनता के सहयोग से 2047 तक विकसित होगा भारत!

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में सीएम योगी ने विकसिक भारत संकल्प योजना कार्यक्रम में भाग लिया। इस दौरान सीएम योगी ने पीएम स्वनिधि योजना के तहत लाभार्थियों को प्रमाण पत्र दिए और चेक सौंपे। इस कार्यक्रम में कुछ देर में पीएम मोदी वर्चुअली जुड़ेगे और लाभार्थियों से संवाद करेंगे। इस मौके पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि विकसित भारत हर किसी का संकल्प होना चाहिए।

सीएम ने कहा कि देश 1947 में आजाद हुआ था, सरकारों ने देश को आगे बढ़ाने के बारे में सोचा भी होगा लेकिन भारत की पहले छवि क्या थी ये पूरा देश जानता है। भारत को लोग किस रूप में देखते है यह किसी से छुपा नहीं है। 

सीएम ने कहा कि 2014 के पहले और 2014 के बाद भारत की क्या छवि है ये भी पूरा देश देख रहा है। पीएम मोदी की योजना जिसमें शौचालय, हर घर नल, हर गरीब का बैंक अकाउंट, आयुष्मान योजना, हर गरीब को घर, हर वंचित वर्ग को मुफ्त राशन शामिल है इसकी चर्चा आज पूरी दुनिया में हो रही है। 

क्या देश को कोई कुबेर का खजाना मिल गया है। नहीं ऐसा नहीं है, ये केवल मोदी जी की सोच का नतीजा है। यूपी में तीन करोड़ परिवारों को शौचालय की सौगात दी गई है। वहीं यूपी में 9 करोड़ लोगों को आयुष्मान योजना का लाभ मिला है। जबकि भारत में 50 करोड़ लोग आयुष्मान योजना से जुड़ चुके हैं। ये ही नहीं जो भी प्राइवेट अस्पताल हमारी सूची से जुड़े हैं उनसे भी गरीब व्यक्ति इलाज करा सकता हैं। 

ये सब काम पहले क्यों नहीं हुआ। आज देश के 80 करोड़ गरीब नागरिकों को फ्री राशन मिल रहा है। नौजवानों को नौकरी भी दी जा रही है। सीएम ने कहा कि जब देश का नागरिक खुशहाल होगा तभी वो देश के बारे में भी सोच पाएगा। हमारा देश जब 2047 में देश का अमृत काल मना रहा होगा तब हमारा देश विकसित और आत्मनिर्भर भारत होगा। 

हमें गुलामी की मानसिकता से बाहर निकलना होगा। सीएम ने कहा कि हर नागरिक का कर्तव्य है कि वो भारत को विकसित बनाने में अपना यगदान दे। जाति पंथ मजहब की राजनीति से हमें ऊपर उठना होगा। ये ही हमारे विकसित भारत के राह का रोड़ा हैं। सीएम ने कहा कि आज यूपी में गरीब की चिंता हो रही है। उसे जाडे़ में कंबल मिल रहा है। खाने की व्यवस्था की जा रही है। गरीब स्ट्रीट वेंडर को कोई दिक्कत ना हो, इसके लिए भी काम हो रहा है। हस्त शिल्पियों के लिए विश्वकर्मा योजना प्रारंभ की गई है। वहीं हर गरीब को घर मिले इस पर भी हम तेजी से काम कर रहे हैं। 

ताजा समाचार