लखीमपुर-खीरी का तेल माफिया मथुरा में पुलिस की गोली लगने से घायल

लखीमपुर-खीरी का तेल माफिया मथुरा में पुलिस की गोली लगने से घायल

मथुरा। ओल भूड़रसु -माल रोड पर शनिवार की रात को लखीमपुर-खीरी के तेल माफिया का थाना फरह पुलिस और एसओजी टीम का आमना सामना हो गया। इस दौरान दोनों तरफ से फायरिंग भी हुई। पुलिस की गोली लगने से तेल माफिया घायल हो गया। घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इंडियन ऑयल कारपोरेशन (आईओसीएल) की मथुरा रिफाइनरी की पाइप लाइन में थाना फरह की ओल पुलिस चौकी क्षेत्र में गांव ओल- भूड़रसु- माल मार्ग  स्थित नगला फर्श तिराहा के पास वाल्व लगाकर तेल चोरी की वारदात की गई थी। इस वारदात को गुजरात के अलावा मैनपुरी के तेल माफिया भी शामिल रहे थे।

जांच में मोहमद वसीम उर्फ सलमान पुत्र स्व. अहमद हुसैन कुरैशी निवासी मोहल्ला खीरी सैय्यदवाडा थाना खीरी लखीमपुर खीरी का भी नाम प्रकाश में आया था। एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने बताया कि वसीम की गिरफ्तारी पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। 

एसएसपी ने बताया कि वसीम की तलाश में एसओजी प्रभारी राकेश कुमार को थाना फरह के वरिष्ठ उपनिरीक्षक सुभाष चंद्र को लगाया गया। रात को वसीम की लोकेशन भी ओल पुलिस चौकी क्षेत्र में मिली। इसी आधार पर वसीम की घेराबंदी की गई। बिना नम्बर की मोटरसाइकिल पर जाते समय उसको पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो आरोपी ने पुलिस टीम के ऊपर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में वसीम गोली लगने से घायल हो गया। घटना स्थल से एक तमंचा 315 बोर, तीन खोखा और दो जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं।

यहां भी कर चुका था वारदात
पुलिस मुठभेड़ में घायल हुआ तेल माफिया वसीम मथुरा के अलावा हरियाणा प्रान्त के जिला झझर थाना सदर झझर (2009) में, जिला सोनीपत थाना गुहाना (2009) में व राजस्थान प्रान्त के जिला अलवर थाना बहरोट (2012) में, जिला चित्तौड़गढ़ थाना देवहुलिया (2012) में, 3.जिला अलवर थाना शाहजानपुर (2021) में तथा गुजरात प्रान्त के जिला वाकानेर थाना वाकानेर (2020) में, 2.जिला अहमदाबाद  एटीएस (2021) में तेल चोरी की वारदात कर चुका था।

ये भी पढे़ं- मथुरा: ब्लैकमेल किए जाने से परेशान लड़की ने इमारत से लगाई छलांग 

 

Online Jobs Apply