Kanpur News: शहर में एलिवेटेड रोड के स्वरूप को लेकर होगी बैठक; अगस्त तक बनेगी डीपीआर

बैठक में यातायात पुलिस, पीडब्ल्यूडी एनएच, कंसलटेंट कंपनी हेक्सा और सेतु निगम के अधिकारी हिस्सा लेंगे

Kanpur News: शहर में एलिवेटेड रोड के स्वरूप को लेकर होगी बैठक; अगस्त तक बनेगी डीपीआर

कानपुर, अमृत विचार। गोल चौराहे से रामादेवी तक 10.85 किलोमीटर लंबे एलिवेटेड रोड का स्वरूप तय करने को लेकर जल्द ही यातायात पुलिस, पीडब्ल्यूडी एनएच, कंसलटेंट कंपनी हेक्सा और सेतु निगम के अधिकारियों के बीच बैठक होगी। इसमें तय होगा कि एलिवेटेड रोड के लिए रैंप कहां- कहां बनाए जाएंगे। इसे राजापुरवा-बल पुलिया नहर पटरी मार्ग से जोड़ा जाएगा या नहीं। वैसे इस नहर पटरी मार्ग को यदि इससे जोड़ा जाता है तो कोकाकोला चौराहा से दर्शनपुरवा तक लगने वाले जाम की समस्या बहुत हद तक कम हो जाएगी। 

हैदराबाद की हेक्सा कंपनी को इस प्रोजेक्ट की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने की जिम्मेदारी दी गई है। कंपनी की टीम यहां पर सर्वे कर रही है। प्रथम चरण के सर्वे का काम पूरा हो गया है। कंपनी ने सड़क किनारे कहां कितने धार्मिक स्थल हैं, कितने पेड़, बिजली के पोल आदि का सर्वे कर लिया है। साथ ही अतिक्रमण की सूची भी बना ली है। अब कंपनी जल निगम, जलकल, केस्को, दूरसंचार निगम, वन विभाग, नगर निगम, केडीए आदि विभागों से सुविधाओं की शिफ्टिंग पर खर्च होने वाली राशि का आगणन मांगेगी। 

साथ ही यातायात पुलिस, केडीए, नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, एनएच पीडब्ल्यूडी, सेतु निगम के अधिकारियों के साथ बैठक करेगी। बैठक की तिथि इसी हफ्ते निर्धारित हो जाएगी। इसी में तय होगा कि कोकाकोला, गुमटी, जरीब चौकी, अफीम कोठी, झकरकटी, टाटमिल, सीओडी आदि जगहों पर कहां- कहां रैंप बनाई जानी है ताकि लोग आसानी से एलिवेटेड रोड पर चढ़ सकें और उतर कर गंतव्य तक पहुंच सकें। 

सांसद सत्यदेव पचौरी ने राजापुरवा लोहरान भट्ठा से शास्त्री नगर होते हुए डबल पुलिया जाने वाली नहर पटरी फोर लेन मार्ग को भी इससे जोड़ने के लिए कहा है। यदि इसे जोड़ा जाता है तो वे लोग जिन्हें विजय नगर, नमक फैक्ट्री चौराहा, दादानगर की ओर जाना है वे आसानी से आ जा सकेंगे। अभी तो उन्हें गुमटी, कोकाकोला क्रासिंग पर जाम में फंसना होता है। 

6 लेन या फोर लेन जल्द तय होगा

सिंगल पिलर पर यह एलिवेटेड रोड बननी है। यह छह लेन की होगी या चार लेन की इसी बैठक में तय होना है। कंपनी फिलहाल दोनों तरह की डीपीआर बनाएगी। 2022 में यह प्रोजेक्ट एक हजार करोड़ रुपये का था लेकिन अब आंकलन किया जा रहा है कि छह लेन बनने पर इसकी लागत 37 सौ करोड़ आएगी।

एलिवेटेड रोड बनाने के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट समय से बनेगी और यह प्रोजेक्ट शहर के लिए लाइफलाइन का काम करेगा। हमारी कोशिश है कि इसे नहर पटरी मार्ग से भी रैंप बनाकर जोड़ दिया जाए ताकि यातायात और आसान हो जाए। - सत्यदेव पचौरी, सांसद

यह भी पढ़ें- Kanpur: चुनौती बना शहर को टीबी मुक्त करना; मरीजों के इलाज में मिली खांमियां, डीएम ने दिए ये निर्देश...

ताजा समाचार

Kanpur Dehat News: आंधी और बारिश से बढ़ी किसानों की धड़कन, गेहूं की फसल को पहुंचा नुकसान
बरेली: मेयर उमेश गौतम के समर्थन में आया ब्राह्मण समाज, कुर्मी समाज के आरोपों को बताया निराधार
लखीमपुर-खीरी: डीएम ने इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण, दिए निर्देश
सुपर स्टार सिंगर-3 के 15वें राउंड में पीलीभीत के क्षितिज ने बनाई जगह, कल से होगी वोटिंग
Kannauj: किशोरी से दुष्कर्म का आरोपी भेजा गया जेल; सात माह पहले दिया था घटना को अंजाम, इस तरह खुली पोल
लखनऊ: लोहिया संस्थान में शुरू हुआ सुपर स्पेशलिटी आईसीयू, किडनी के मरीजों को एक छत के नीचे मिलेगा पूरा इलाज