अयोध्या: नहीं रहे पूर्व प्राचार्य शिक्षाविद राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त सुधांशु मिश्र, डॉ मुरली मनोहर जोशी के साथ की थी उच्चस्तरीय पढ़ाई

2003 में मिला था राष्ट्रपति पुरस्कार, जिले में छाया शोक, महाराजा इंटर कॉलेज में होगी शोकसभा

अयोध्या: नहीं रहे पूर्व प्राचार्य शिक्षाविद राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त सुधांशु मिश्र, डॉ मुरली मनोहर जोशी के साथ की थी उच्चस्तरीय पढ़ाई

अयोध्या, अमृत विचार। जिले में शिक्षा के लिए समर्पण के साथ विशिष्ट योगदान के लिए पहचान रखने वाले महाराजा इंटर कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य व राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित सुधांशु मिश्र का मंगलवार को सुबह निधन हो गया। लगभग 82 वर्षीय सुधांशु मिश्र अपने पीछे पत्नी, दो पुत्र, दो पुत्रियां सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गए है।

राजसदन अयोध्या परिवार के महाराजा इंटर कॉलेज में प्रधानाचार्य का पद संभालने के बाद उन्होंने शिक्षा के विकास, छात्रों के भविष्य और शैक्षिक वातावरण को बेहतर बनाने में अपना जीवन समर्पित कर दिया। छात्रों को सर्वश्रेष्ठ शिक्षा, शैक्षिक वातावरण के साथ प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार करने के लिए आसपास के जनपदों में सुधांशु मिश्र का खासा नाम रहा। 

माध्यमिक स्कूल में कोएजुकेशन का अनूठा प्रयोग कर उन्होंने शिक्षा को नई दिशा दी और छात्राओं में आत्मविश्वास पैदा किया। वर्ष 2003 में सुधांशु एक को शिक्षा में विशिष्ट योगदान के लिए राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में पूर्व केंद्रीय मंत्री  डॉ. मुरली मनोहर जोशी के सानिध्य में फिजिक्स से एमएससी और बीएड किया।बड़ी संख्या में छात्र छात्राओं को स्वयं के प्रयास से प्रतियोगिताओं में सफलता दिलाने में सहयोग किया। 

राजनीतिक क्षेत्र में भी विशिष्ट संबंध के बावजूद कभी राजनीति में नही गए और स्वयं का जीवन शिक्षा के लिए समर्पित कर दिया। नगर के रिकाबगंज स्थित बलरामपुर हाउस निवासी सुधांशु मिश्र को गत तीन दिन पूर्व अस्वस्थ होने पर लखनऊ के निजी अस्पताल में दाखिल किया गया। 

मंगलवार की सुबह घर पहुंचने के आधे घंटे बाद ही उनका निधन हो गया। अयोध्या राजसदन परिवार, अधिवक्ता, शिक्षकों सहित विभिन्न क्षेत्रों में खबर से दुख व्याप्त हो गया है। शोकाकुल उनके पुत्र वरिष्ठ अधिवक्ता सौरभ मिश्र, प्रो. गौरव मिश्र, पुत्रियां जिला मलेरिया अधिकारी नवनिधि मिश्रा व शिक्षिका स्वस्तिका मिश्रा को सांत्वना देने वालों का तांता लगा है।

यह भी पढ़ें:-गोंडा: स्ट्रांग रूम में जमा हुई EVM मशीनें, 4 जून के खुलेगा किस्मत का पिटारा

ताजा समाचार

कासगंज: डायल 112 के बेड़े में शामिल हुई सात नई स्कॉर्पियो, एसपी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना 
देवरिया में चार घंटे के लिए हिरासत में लिए गए सांसद रामभुआल, दीपू निषाद के परिजनों से करनी थी मुलाकात  
Etawah News: शेरनी नीरजा के तीनों शावकों ने खोली आंखे, सभी हैं मादा, बीमार शावक इलाज से हो रहा स्वस्थ
कासगंज: देश की एकता और अखंडता को श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने दी थी प्राणों की आहुति 
पौने दो करोड़ से होगा झारखंडी सरोवर का कायाकल्प बनेगा छट्ठी माता पूजा घाट और विश्रामालय
भारतीय सेना में अग्निवीर भर्ती रैली कल से, इन जिलों के अभ्यर्थियों को मिलेगा मौका