बदायूं: आत्महत्या नहीं गला दबाकर हुई थी वीर सिंह की हत्या, जानिए पूरा मामला

बदायूं: आत्महत्या नहीं गला दबाकर हुई थी वीर सिंह की हत्या, जानिए पूरा मामला

बदायूं, अमृत विचार: गाजियाबाद में नौकरी करने वाले युवक का शव मंगलवार शाम थाना उघैती क्षेत्र में खेत के पेड़ पर लटका मिला था। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची थी। शव फंदे से नीचे उतारा गया था। युवक के शरीर पर हल्के चोट के निशान देखकर परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया था लेकिन किसी से भी रंजिश होने से इंकार किया था। पुलिस ने बुधवार को पोस्टमार्टम कराया। जिसमें युवक की गला दबाकर हत्या करने की बात सामने आई है।

इस्लामनगर थाना क्षेत्र के गांव सकतपुर निवासी वीर सिंह (32) पुत्र मोर सिंह की शादी नहीं हुई थी। वह गाजियाबाद में रहकर नौकरी करते थे। किसी काम से 16 दिन पहले गांव आए थे। मंगलवार देर शाम वीर सिंह का शव थाना उघैती क्षेत्र के गांव कोठा के पास पेड़ पर फंदे पर लटका मिला था। खेत से घर लौट रहे किसानों ने पेड़ पर युवक का शव देखा तो पुलिस को सूचना दी। 

थानाध्यक्ष राजेश कौशिक मौके पर पहुंचे। शव को फंदे से उतारा। युवक की शिनाख्त हुई। युवक द्वारा आत्महत्या करने का मामला माना जा रहा था। पुलिस ने युवक के परिजनों को सूचना दी गई। परिजन मौके पर पहुंचे। वीर सिंह के शरीर पर कुछ चोट के निशान थे। परिजनों ने हत्या करके शव पेड़ पर लटकाने का आरोप लगाया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बुधवार दोपहर शव का पोस्टमार्टम कराया तो चौकाने वाला मामला सामने आया। युवक की मौत आत्महत्या करने से नहीं बल्कि गला दबाकर की गई थी। पोस्टमार्टम के दौरान कुछ ग्रामीणों ने युवक के प्रेम प्रसंग के चलते हत्या का अंदेशा जताया। 

थानाध्यक्ष राजेश कौशिक ने बताया कि युवक का शव पेड़ पर लटका मिला था। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। परिजनों की ओर से तहरीर नहीं दी गई है।

यह भी पढ़ें- बदायूं: गंगा में चार किशोर समेत पांच डूबे, एक की मौत

ताजा समाचार