कासगंज: गंगा दशहरा और बकरी ईद पर बढ़ती जाए विशेष सतर्कता, सोशल मीडिया पर रखें नजर 

कासगंज: गंगा दशहरा और बकरी ईद पर बढ़ती जाए विशेष सतर्कता, सोशल मीडिया पर रखें नजर 

कासगंज, अमृत विचार। कलक्ट्रेट सभागार में शनिवार को अलीगढ़ की मंडलायुक्त एवं आईजी ने गंगा दशहरा और बकरीद पर्व को लेकर अधिकारियों के साथ सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। अधिकारियों को कोई भी नई परंपरा शुरू न होने देने एवं सोशल मीडिया पर विशेष नजर रखने के निर्देश दिए। सभ्रांत नागरिकों की बैठक में शांति एवं सौहार्द के साथ पर्व मनाने की अपील की। 

बैठक में मंडलायुक्त चैत्रा.बी ने उपस्थित धार्मिक गुरुओं, प्रबुद्धजनों एवं संभ्रान्त नागरिकों से सीधा संवाद कर आगामी त्यौहारों पर आपसी सौहार्द एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग का आह्वान किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए एंबुलेंस व्यवस्था, वेरीकेडिंग, साफ सफाई, प्रकाश की व्यवस्था, जनपद स्तर पर कंट्रोल रूम की स्थापना एवं तहसील स्तर पर, खाद्य पदार्थ पर मिलावट रोकने, चेंजिंग रूम की व्यवस्था, गोताखोर, नाव की व्यवस्था, साइन बोर्ड, इत्यादि पर विशेष ध्यान दें।

उन्होंने कहा कि ट्रैफिक की वजह से लोक सेवा आयोग परीक्षा का पेपर किसी भी परीक्षार्थी का ना छुटे पाएं। इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। आईजी शलभ माथुर ने कहा कि ट्रैफिक की किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। उनके साथ अच्छा व्यवहार करें मुख्य मार्गों का स्थलीय निरीक्षण कर लिया जाए कहीं पर विद्युत तारों की समस्या ना होनी चाहिए। डीएम सुधा वर्मा ने कहा कि त्यौहार में किसी प्रकार की नई परंपरा न डाली जाए।

किसी भी दशा में प्रतिबंधित पशु की कुर्बानी न दी जाए। तथा कोई भी कुर्बानी खुले में न हो। डीएम ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में किसी प्रकार की लापरवाही संज्ञान में न आए एवं साफ सफाई की विशेष व्यवस्था रहे। एसपी अपर्णा रजत कौशिक ने भी सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में अधीनस्थों को निर्देशित किया। सीडीओ सचिन, एडीएम राकेश कुमार पटेल, एएसपी राजेश भारती,  सीएमओ डा. राजीव अग्रवाल सहित धर्मगुरुओं तथा जनपद के संभ्रांत लोग उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें। कासगंज: सड़क किनारे सौ रहे ग्रामीणों को ट्रैक्टर ट्रोली ने रौंदा, एक की मौत, दूसरा घायल