रामपुर: तेंदुए को लेकर दूसरे दिन भी ग्रामीणों में दहशत बरकरार

रामपुर: तेंदुए को लेकर दूसरे दिन भी ग्रामीणों में दहशत बरकरार

रामपुर/मसवासी, अमृत विचार। क्षेत्र के शिकारपुर में तेंदुआ पकड़ने के लिए लगाया गया पिंजरा दूसरे दिन भी खाली रहा तेंदुए को लेकर ग्रामीणों में दहशत बरकरार है। किसानों ने खेतों पर जाना भी बंद कर दिया है। शिकारपुर में गुरुवार को तेंदुआ दिखाई दिया था,जिसको लेकर वन विभाग ने पिंजरा लगा दिया था। उसमें बकरी …

रामपुर/मसवासी, अमृत विचार। क्षेत्र के शिकारपुर में तेंदुआ पकड़ने के लिए लगाया गया पिंजरा दूसरे दिन भी खाली रहा तेंदुए को लेकर ग्रामीणों में दहशत बरकरार है। किसानों ने खेतों पर जाना भी बंद कर दिया है। शिकारपुर में गुरुवार को तेंदुआ दिखाई दिया था,जिसको लेकर वन विभाग ने पिंजरा लगा दिया था।

उसमें बकरी को भी बांध दिया था, लेकिन दो दिन बीतने के बाद भी तेंदुआ पिंजरे में कैद नहीं हो सका है। पिंजरा खाली पड़ा रहा शिकारपुर निवासी प्रदीप कुमार ने पिंजरे से बकरी को निकाल कर पानी पिलाया। चारा खिलाया ग्रामीण बताया रात के समय बकरी को पिंजरे में बांध किया जाता है ताकि तेंदुआ आसानी से शिकार के लालच में पिंजरे में कैद हो सके।

तेंदुआ दिखाई देने से ग्रामीणों के होश उड़ हुए है। उन्होंने बच्चों और महिलाओं को खेतों पर जाना लगभग बंद कर दिया है।कई किसान इकट्ठे होकर खेतों पर जा रहे हैं। फसलों को सिंचाई कर रहे हैं। शनिवार को भी वन विभाग के दरोगा शील कुमार ने कर्मचारियों के साथ पिंजरे का मुआयना किया।आसपास तेंदुए के पैरों को देखा और ग्रामीणों से सतर्कता बरतने की अपील की।

ये भी पढ़ें:-  जी-7 शिखर सम्मेलन में स्वास्थ्य व आतंकवाद के मुद्दों पर विचार रखेंगे पीएम मोदी

Post Comment

Comment List