लखनऊ रेलवे क्वार्टर हादसा : 100 से अधिक मकान जर्जर, लोग बोले - विभागीय लापरवाही ने ली परिवार की जान 

लखनऊ रेलवे क्वार्टर हादसा : 100 से अधिक मकान जर्जर, लोग बोले - विभागीय लापरवाही ने ली परिवार की जान 

लखनऊ, अमृत विचार। फतेह अली तालाब स्थित रेलवे कॉलोनी में हुए हादसे के बाद स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश है। उनका कहना है कि रेलवे की लापरवाही की कीमत आज पूरे परिवार को जान देकर चुकानी पड़ी है।    

कॉलोनी निवासियों का कहना है कि यहां पर 100 से अधिक मकान जर्जर स्थिति में है। करीब 1 साल पहले रेलवे की तरफ से मकान खाली करने को कहा गया था। इसके लिए नोटिस भी जारी की गई थी, लेकिन कोई सख्त कार्यवाही नहीं दिखाई गई तो यहां के रहने वालों ने भी जाना मुनासिब नहीं समझा। स्थानीय लोगों ने कहा कि इस दौरान रेलवे विभाग की तरफ से कुछ मकान तोड़े भी गए थे लेकिन उसके बाद काम बंद कर दिया गया।

22 (77)

स्थानीय निवासी बबलू नाम के व्यक्ति ने बताया है कि कॉलोनी जर्जर है लेकिन कभी यह नहीं सोचा गया था कि इतना बड़ा हादसा हो जाएगा। वही जो लोग प्राइवेट कॉलोनी में रह रहे हैं वह भी इस बात को मान रहे हैं कि इन जर्जर मकानों से उनके मकान पर भी खतरा लगातार मंडरा रहा है।

23 (83)

गौरतलब है कि शुक्रवार देर रात रेलवे कॉलोनी में क्वार्टर संख्या L-60 की छत गिरने से मलबे में दबकर एक ही परिवार के 5 सदस्यों की मौत हो गई है।  

ये भी पढ़ें -लखनऊ में बड़ा हादसा, जर्जर रेलवे क्वार्टर की छत गिरी - एक ही परिवार के 5 सदस्यों की मौत - Video

ताजा समाचार

Lok Sabha Election: Kannauj से लंबी जद्दोजहद के बाद सुब्रत पाठक का टिकट फाइनल...चौथी बार क्षेत्र से आजमाएंगे भाग्य
मुरादाबाद: रामपुर के हत्याकांड पर कांग्रेस का हल्लाबोल, केस में SC/ST एक्ट की धारा बढ़ाने की मांग
रामपुर: भाजपा ने धनश्याम लोधी पर फिर जताया भरोसा, सौंपी लोकसभा की जिम्मेदारी
लोकसभा चुनाव लड़ने पर मनोज पांडेय की दो टूक-ऊंचाहार को नहीं छोडूंगा, कोई भ्रम में न रहे
Bareilly News: इस महीने 10 दिन बंद रहेंगे बैंक, निपटा लें सारे जरूरी काम
प्रयागराज: औरंगजेब ने इस शिवलिंग पर मारी थी तलवार, चोट लगते ही निकली थी खून और दूध की धार, जानिए क्या है इस शिव मंदिर का पौराणिक महत्व?
Online Jobs Apply