दरभंगा एक्सप्रेस: हादसे के बाद सदमे में हैं यात्री, बार-बार कर रहे ईश्वर को धन्यवाद, ट्रेन के रुकने से बची जान

दरभंगा एक्सप्रेस: हादसे के बाद सदमे में हैं यात्री, बार-बार कर रहे ईश्वर को धन्यवाद, ट्रेन के रुकने से बची जान

इटावा। दरभंगा एक्सप्रेस के एस-वन कोच में लगी आग के चश्मदीद यात्रियों का जिला अस्पताल में उपचार कराया गया है। बिहार के यात्री छठ पूजा पर अपने अपने घर जाने के लिए इस ट्रेन में सवार हुए थे। अचानक हुए इस हादसे से बुरी तरह से सहमे हैं। अपनी जान बचने पर वे ईश्वर को धन्यवाद कहना नहीं भूलते। 

Untitled-18 copy

यात्रियों ने बताया कि एक पल की देर हो जाती तो पता नहीं क्या से क्या हो जाता। एक धमाके के बाद आग इतनी तेजी से फैली की संभलना मुश्किल हो गया। कुछ यात्री तो अपना सामान लेकर कूद पड़े। जिनके पास सामान ज्यादा था उनका सामान तो कोच में ही छूट गया। कुछ बचा पाये और कुछ आग की भेंट चढ़ गया। 

Untitled-19 copy

यात्री मनोज चौपाल, हरेंद्र और दयानंद, कंचन देवी ने जिला अस्पताल में उपचार के दौरान वे नई दिल्ली में मेहनत मजदूरी करते हैं। छठ पूजा के अवसर पर अपने अपने गांव जा रहे थे। नई दिल्ली से एस वन कोच में सवार हो गए। आराम से सफल चल रहा था। सराय भूपत स्टेशन के नजदीक पहुंचते ही अचानक कोच में एक तेज धमाका हुआ। 

Untitled-17 copy

इसके बाद आग की लपटें दिखाई देने लगी। अचानक गाड़ी रुकते ही हम लोग जान बचाने के लिए कोच से नीचे कूदने लगे। आग की लपटें आगे बढ़ती जा रही थी जिसमें भागते समय हम लोग भी झुलस गये। आग की लपटें देखकर आगे के एस टू, एस थ्री और एसएलआर कोच के यात्री भी नीचे कूद पड़े। उन्होने कहा कि यदि कुछ पल और बीत जाते तो पता नहीं क्या हो जाता। 

ट्रेन के रुकने से बची कई यात्रियों की जान 

इटावा। सायं 5 बजकर 33 मिनट पर आग लगने की सूचना मिलते ही चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर गाड़ी रोक दी। अभी आग की लपटें शुरू ही हो रही थी। तेज हवा चलने के कारण आगे तेजी से कोच को अपनी चपेट में लेती जा रही थी। 

ट्रेन रुकने के कारण यात्रियों को कोच से बाहर कूदने का समय मिल गया और जब तक आग ने विकराल रूप धारण किया। एस वन कोच पूरी तरह से खाली हो चुका था। यदि कहीं समय का थोड़ा भी अंतराल होता तो बड़ा हादसा भी हो सकता है। एसएसपी संजय कुमार वर्मा ने बताया कि घायल यात्रियों का उपचार कराया जा रहा है। सभी यात्री सुरक्षित हैं। राहत और बचाव कार्य कराये जा रहे हैं। आग पर काबू पा लिया गया है।

ताजा समाचार