प्रयागराज: बस कंडक्टर को चापड़ मारने वाले आरोपी छात्र लारिस का हुआ एनकाउंटर, पैर में लगी गोली, गिरफ्तार

प्रयागराज: बस कंडक्टर को चापड़ मारने वाले आरोपी छात्र लारिस का हुआ एनकाउंटर, पैर में लगी गोली, गिरफ्तार

नैनी, प्रयागराज। औद्योगिक थाना क्षेत्र के डेज मेडिकल तिराहे के समीप शुक्रवार की सुबह इंजीनयरिंग के छात्र ने सिटी बस के कंडक्टर को चापड़ से मारकर घायल करने वाले छात्र लारिस की पुलिस के साथ मुठभेड़ हुई। ये मुठभेड़ चांडी बंदरगाह के पास हुई, मुठभेड़ के दौरान छात्र लारिस ने पुलिस पर फायर झोंक दिया जिसके बाद पुलिस ने बचाव में जवाबी कार्रवाई की जिससे आरोपी छात्र के पैर में गोली लग गई। जिससे चापड़ चलाने वाला आरोपी छात्र वहीं पर गिर गया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी लारिस को गिरफ्तार कर लिया और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। 

जानकारी के मुताबिक सोराव के हाज़ीगंज का रहने वाला छात्र लारिस पुत्र मो यूनुस औद्योगिक क्षेत्र के एक इंजीनजरिंग कॉलेज में पढ़ता है। वह रोज मार्कोपोलो की सिटी बस से कॉलेज जाता था। उसी बस के कंडक्टर हरिकेश विश्कर्मा निवासी प्रतापुर सिमरी थाना सराय ममरेज से कुछ दिन पहले टिकट को लेकर विवाद हुआ था। कई दिनों से हो रहे विवाद से खून्नस खाये छात्र लारिस से शुक्रवार को फिर विवाद हो गया।

उस दौरान लारिस ने अपने बैग से चापड़ निकाल कर कंडक्टर हरिकेश को मार दिया। जिससे वह लहूलुहान होकर बस में गिर पड़ा। जिसके बाद बस में हड़कंप मच गया। घटना के आरोपी छात्र मौके से भाग निकला था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल कंडक्टर को इलाज के लिए तत्काल स्वरूप रानी नेहरु चिकित्सालय भेज दिया।

वही मौके पर एसीपी करछना अजीत सिंह चौहान भी पहुंच गये। घटना के बाद आरोपी  छात्र को पुलिस ने चांडी गांव के पास बंदरगाह से हिरासत में लेकर पुलिस थाने उठा लाई। छात्र से पूछताछ की जा रही थी।

छात्र के मुताबिक उसके पास चापड़ के अलावा एक पिस्टल भी थी, जिसे उसने छिपा दिया था। पूछताछ के बाद हथियार की बरामदगी के लिए पुलिस की टीम आरोपी कल लेकर चांडी गांव पहुंची और हथियार को बरामद कराया। उसी दौरान पिस्टल निकालते वक्त आरोपी छात्र ने पुलिस पर फायर झोंक दिया। जिसके बाद पुलिस ने बचाव में गोली चलाई और छात्र के पैर में गोली लग गयी। जिससे वह गिर पड़ा। पुलिस ने आरोपी को इलाज के लिए कड़ी सुरक्षा में आस्पताल भेजा है। पुलिस आगे मामले की जांच कर रही है। 

औद्योगिक थाना प्रभारी सुभाष सिंह का कहना है कि छात्र ने कंडक्टर को चापड़ से मारा है। घटना की जांच की जा रही है। दोनों के बीच क्या विवाद है, इसका पता लगाया जा रहा है। फिलहाल कंडक्टर की हालत स्थिर है। हथियार बरामदगी के दौरान पुलिस पर फायरिंग के दौरान जवाबी फायरिंग में आरोपी घायल हुआ है। जिसे अस्पताल भेजा गया है।

यह भी पढ़ें: आम के पकने और सुगंध को जीन साइलेंसिंग के माध्यम से नियंत्रित किया जा सकता है: डॉ. विधु ए साने

Online Jobs Apply