किच्छा: इमाम के समर्थन एवं विरोधी पक्ष आए आमने-सामने

किच्छा: इमाम के समर्थन एवं विरोधी पक्ष आए आमने-सामने

किच्छा, अमृत विचार। कोतवाली अंतर्गत ग्राम कठर्रा गऊघाट में मस्जिद के इमाम को हटाने की मांग को लेकर विवाद खड़ा हो गया। इस दौरान इमाम के समर्थक और विरोधी पक्ष आमने-सामने आ गए। आरोप है कि विरोधी पक्ष के करीब तीन दर्जन लोगों ने इमाम पर हमला बोल दिया। बीच बचाव को आए दो युवकों के साथ आरोपियों ने जमकर मारपीट कर दी।

इस दौरान मस्जिद के इमाम ने खुद को कमरे में बंद कर अपनी जान बचाई। घटना की सूचना पर कोतवाली पुलिस की टीम भी दलबल के साथ मौके पर पहुंच गई। एक पक्ष ने चौकी पुलिस को लिखित शिकायत देकर कार्रवाई किए जाने की मांग की है। फिलहाल पूरे मामले को लेकर गांव के गणमान्य नागरिकों द्वारा पंचायत के माध्यम से विवाद को सुलझाने का प्रयास किया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार पूरा मामला कोतवाली अंतर्गत कलकत्ता फॉर्म चौकी क्षेत्र से जुड़े ग्राम कठर्रा गऊघाट का है। बताया जा रहा है कि ग्राम स्थित जामा मस्जिद के ईमाम से नाराजगी जताते हुए एक ग्रामीण तथा उसका परिवार लंबे समय से मस्जिद में नमाज पढ़ने नहीं पहुंच रहा था। ग्रामीण की नाराजगी का मामला जब मस्जिद के इमाम के संज्ञान में आया तो उन्होंने गांव में रहने से इनकार करते हुए अन्य क्षेत्र में जाने की इच्छा जताई।

ग्रामीणों के अनुसार इमाम द्वारा मस्जिद कमेटी के सामने अन्य क्षेत्र में जाने की इच्छा जताते हुए अपना बकाया हिसाब करने का निवेदन किया गया। इमाम द्वारा गुरुवार को गांव छोड़कर जाने की बात कही गई। ग्रामीणों के अनुसार मस्जिद के इमाम द्वारा गांव छोड़ने के लिए अपने सामान की पैकिंग कर ली गई। इसी बीच गांव के कुछ ग्रामीण मौके पर पहुंचे और उन्हें रोकने का प्रयास कर गुरुवार को जाने का आग्रह किया।

आरोप है कि इसी दौरान इमाम के विरोधी पक्ष के करीब तीन दर्जन लोग मौके पर पहुंच गए और इमाम के साथ गाली-गलौज कर उन पर हमला करने का प्रयास किया। मौके पर मौजूद दो युवकों द्वारा इमाम के साथ गाली गलौज व अभद्रता किए जाने का विरोध करने पर  विरोध कर रहे लोगों ने युवकों के साथ मारपीट शुरू कर दी।

जिसके बाद अपनी जान बचाने के लिए जामा मस्जिद के इमाम ने खुद को मस्जिद के कमरे में बंद कर अपनी जान बचाई। घटना की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक सुंदरम शर्मा के नेतृत्व में कोतवाली तथा चौकी पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई और हंगामा कर रहे लोगों को तितर बितर किया। इस बीच घटना में घायल युवक को उपचार के लिए किच्छा ले जाते हुए दोनों पक्ष फिर से आमने-सामने आ गए। मौके पर मौजूद गणमान्य ग्रामीणों द्वारा बमुश्किल मामले को शांत कराया गया।

फिलहाल पूरे मामले को लेकर गांव का माहौल गरमाया हुआ है। कोतवाली प्रभारी सुंदरम शर्मा ने मस्जिद के इमाम सहित तमाम ग्रामीणों से मुलाकात कर उनके बयान दर्ज किए और गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि किसी कीमत पर भी अराजकता बर्दाश्त नहीं की जाएगी और दोषियों के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। घटना में घायल युवक का उपचार के बाद उसके घर पर ही इलाज चल रहा है और उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। वहीं दूसरी तरफ तमाम लोगों द्वारा पंचायत के माध्यम से विवाद को सुलझाने का प्रयास किया जा रहा है।

ताजा समाचार

बदायूं: बरेली से एसपी करेंगे सीओ पर लगे आरोप की जांच, जानें मामला
श्री गंगा दशहरा महोत्सव: 11,551 दीपों से जगमग हुआ मां बेल्हा देवी घाट, काशी से आये पुरोहितों ने की महाआरती
अमरोहा: गोवंश को जिंदा दफनाना बेहद निदंनीय- पशुधन मंत्री धर्मपाल सिंह 
सीएम योगी ने कुवैत अग्निकांड में गोरखपुर के मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख की सहायता दी
Kanpur: कल आखिरी बार तीनों शैतानों को 7-7 कंकरी मारेंगे हज आजमीन, कुर्बानी कराने, सिर के बाल बनवाने समेत कई अरकान पूरे
संभल: मेड़ के विवाद में महिला की गोली मारकर हत्या, मचा कोहराम...पांच के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज