काशीपुर: तहसील क्षेत्र में सीलिंग की भूमि होगी अतिक्रमण मुक्त

काशीपुर: तहसील क्षेत्र में सीलिंग की भूमि होगी अतिक्रमण मुक्त

काशीपुर, अमृत विचार। प्रशासन ने तहसील क्षेत्र में सीलिंग की जमीनों को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए कमर कस ली है। प्रथम चरण में प्रशासन ने ग्राम सीतारामपुर से सीलिंग की भूमि को अतिक्रमण मुक्त कर कब्जा ले लिया। इस भूमि पर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकानों  का निर्माण होगा। शीघ्र ही अन्य स्थानों से भी प्रशासन अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करेगा।

दरअसल तहसील क्षेत्र में करीब 150 एकड़ से अधिक सीलिंग की भूमि है। जिस पर लोग दशकों से कब्जा कर फसल बोने के साथ अन्य लाभ उठाने में लगे हैं। उच्चाधिकारियों के आदेश के बाद प्रशासन ने सीलिंग की भूमि पर कब्जा लेने की कार्रवाई शुरू कर दी है। तहसीलदार युसूफ अली ने टीम के साथ ग्राम सीतारामपुर पहुंचकर सीलिंग की 2.054 हेक्टेयर जमीन पर कब्जा लिया। प्रशासन ने कब्जा लेने के बाद पीलर लगाकर हद बंदी कर दी है।

एसडीएम अभय प्रताप सिंह ने बताया कि तहसील क्षेत्र में करीब डेढ़ सौ एकड़ सीलिंग की भूमि पर लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है। अधिकांश गांव में सीलिंग की भूमि है। प्रशासन ऐसी भूमि चिन्हित कर अतिक्रमण मुक्त कराकर अपने कब्जे में लेगा। उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा सीतारामपुर में सीलिंग की भूमि कब्जे में ली गई। उक्त 2.054 हेक्टेयर जमीन में से 1.054 हेक्टेयर भूमि पर प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लिए प्रस्तावित की गई है।

उन्होंने कहा कि बरखेड़ा पांडे में भी सीलिंग की भूमि से भी जल्द कब्जा हटाया जाएगा। अन्य गांव में सीलिंग भूमि पर हुए कच्चे या पक्के अतिक्रमण को तोड़कर कब्जे में लिया जाएगा। हदबंदी के लिए 100 पीलर बनवाने का ऑर्डर दिया गया है।

अवैध कॉलोनी में प्रशासन ने की पैमाइश
काशीपुर। ग्राम सरबरखेड़ा निवासी मोहम्मद हारून ने कुमाऊं कमिश्नर से शिकायत कर ढेला नदी के किनारे अवैध कॉलोनी काट कर उसके पट्टे की जमीन पर कब्जा करने का आरोप लगाया था। इस पर कमिश्नर ने एसडीएम को जांच के आदेश दिए थे। बुधवार को हल्का लेखपाल कुलवीर सिंह ने मौके पर पहुंचकर जमीन की पैमाइश की। शीघ्र ही रिपोर्ट एसडीएम को भेजी जाएगी।

Post Comment

Comment List