बरेली: हालातों के आगे नहीं मानी हार, विरोध झेल फोटोग्राफी क्षेत्र में बढ़ाए कदम

बरेली: हालातों के आगे नहीं मानी हार, विरोध झेल फोटोग्राफी क्षेत्र में बढ़ाए कदम

शब्या सिंह तोमर, बरेली, अमृत विचार। फोटोग्राफी के क्षेत्र में जहां पुरुष कदम रखने से पहले कई बार सोचते हैं, वहीं शहर की दो महिलाएं अपने पतियों की मौत के बाद उनके काम को संभाल रही हैं। शुरुआत में उन्हें लोगों का कई बार विरोध झेलना पड़ा, लेकिन हालात के आगे हार न मानने की आदत से उन्हें प्रेरणा मिली और अब अपने बच्चों का भविष्य बना रही हैं।

बच्चों की जिम्मेदारी के लिए चुनी फोटोग्राफी
चालीस वर्षीय पल्लवी सक्सेना सिटी रोड मलूकपुर स्थित फोटो स्टूडियो के साथ शादी बरातों और बाहर शूट का काम संभालती हैं। उनके पति मिंटू सक्सेना की 10 साल पहले मौत हो गई थी। इसके बाद दो बेटे और दो बेटियों की पालन-पोषण की जिम्मेदारी उनके कंधों पर आ गई।

ससुराल में बूढ़े ससुर होने और मायके से कोई सहारा नहीं मिलने पर उन्होंने पति का फोटोग्राफी का काम संभाल लिया। आज उनके बच्चे भी बड़े हो गए हैं और इसी क्षेत्र में कार्य करना चाहते हैं। जब उन्होंने पति का काम संभाला तो कई बार लोगों ने विराेध किया और कहा कि यह काम महिलाएं नहीं संभाल सकती हैं। पल्लवी ऐसा नहीं मानती थी और दूसरा कोई कमाई का साधन न होने पर उन्होंने स्टूडियो पर ही काम शुरू कर दिया।

वंदना सिंह के ऊपर मुसीबतों का पहाड़ टूट गया, जब उनके पति शिव शंकर की मौत कोरोना की दूसरी लहर में हो गई। इसके बाद बाद सिविल लाइंस स्थित उनके फोटो स्टूडियो से कैमरा और अन्य सामग्री भी बिक चुकी थी। वंदना के ससुराल-मायके में भी कोई नहीं था। ऐसे में आर्थिक संकटों से जूझते हुए भी उन्होंने अपने पति के स्टूडियो का सामान बिकने के बाद दोबारा खरीदा। आज वह सभी नए ग्राहकों को जोड़ती भी हैं। साथ ही शादी-बरातों में भी अपनी टीम का सुपरविजन करती हैं। इन कामों में कभी रात के तीन तक बज जाते हैं। वंदना की एक 12 वर्षीय बेटी और आठ वर्षीय बेटा है।

दोनों महिलाओं को मिल चुका सम्मान
दोनों महिलाओं को फोटोग्राफी क्षेत्र में योगदान के लिए अगस्त 2023 में फोटोग्राफर एसोसिएशन उत्तर प्रदेश की ओर से सम्मानित किया गया। बरेली फोटोग्राफर एसोसिएशन के अध्यक्ष अरविंद आनंद ने बताया कि इनका योगदान सराहनीय है। अगर ये इस काम को आगे नहीं बढ़ाती तो यह काम इनके पतियों के जाने के साथ ही खत्म हो जाता।

ये भी पढे़ं- बरेली: सर्दी बढ़ते ही अंडों के दामों में आई गर्मी...30 प्रतिशत तक उछली कीमत, हैदराबादी अंडे की सबसे ज्यादा डिमांड

 

Online Jobs Apply