कासगंज: बोर्ड परीक्षा- आवेदनों की त्रुटियां सही कराने का कल है अंतिम मौका

प्रधानाचार्यों को दिया डीआईओएस को दिए निर्देश कहा लापरवाही न करें

कासगंज: बोर्ड परीक्षा- आवेदनों की त्रुटियां सही कराने का कल है अंतिम मौका

कासगंज, अमृत विचार :  माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बोर्ड परीक्षार्थियों के आवेदन की त्रुटियों को सही करने के लिए स्कूल प्रधानाचार्यों को एक और मौका दिया है। प्रधानाचार्यों को सोमवार तक का समय दिया गया है। इस समय के बाद प्रत्यावेदन करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। प्रधानाचार्यों को निर्देशित किया गया है कि आज हर हाल में त्रुटिया ठी करा लें।

जिले से 265 माध्यमिक स्कूलों के 40282 परीक्षार्थी हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। परिषद से परीक्षार्थियों के नाम, माता का नाम, पिता का नाम की स्पेलिंग की गलतियों, विषय कोड की गलतियों में सुधार के लिए तीन मौके दिए जा चुके हैं।

इसके बाद भी स्कूलों के संचालकों ने गलतियों में सुधार के लिए परिषद से प्रत्यावेदन किया गया। परीक्षार्थियों के हित को देखते हुए परिषद ने स्कूलों को त्रुटियों में सुधार के लिए एक और मौका दिया गया है। अब वह 11 दिसंबर तक प्रत्यावेदन कर सकते हैं। जिससे गलतियों को सही किया जा सके। परिषद ने साथ ही यह स्पष्ट किया है कि सुधार प्रकिया में परीक्षार्थी का पूरा नाम नहीं बदला जाएगा।

कार्यालय में तैयारियां जोरों पर: बोर्ड परीक्षा को लेकर जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में तैयारियां जोरों पर चल रही है। सभी जरूरी अभिलेख देखे जा रहे है। डीआईओएस प्रतिदिन अधीनस्थ अधिकारियों के साथ समीक्षा कर रहे।

परिषद से गलतियों में सुधार के लिए अंतिम मौका दिया गया है। स्कूल संचालक सोमवार तक सुधार की प्रक्रिया को पूरा कर लें। इसके बाद मौका नहीं दिया जाएगा। यदि इसके बाद कोई विद्यालय प्रत्यावेदन करता है तो परिषद कार्रवाई करेगी- पीके मौर्य, डीआईओएस

ये भी पढ़ें - कासगंज: कांग्रेस के भ्रष्टाचार के विरुद्ध भाजपा ने भरी हुंकार, किया प्रदर्शन

ताजा समाचार

रायबरेली: बहन से छेड़छाड़ का विरोध करने पर भाई को सड़क पर पीटा 
रामपुर : आचार संहिता का उल्लंघन करना पड़ा भारी, बसपा प्रत्याशी समेत तीन पर केस
Kanpur: सीएस क्षेत्र से जुड़े स्टार्टअप भी शहर से होंगे शुरू; भारतीय कंपनी सचिव संस्थान के छात्र-छात्राओं ने IIT में समझीं बारीकियां
बहराइच: 46 लाख के चेक के लिए वर्षों से भटक रहे थे मृतक के माता-पिता, डीएम ने एक घंटे में दिलाया Cheque
Etawah: कोयला लदी ट्रेन की दो बोगियों से उठा आग का धुआं...कानपुर जा रही थी, फायर कर्मियों ने पाया काबू
गोंडा: बड़ी बहन ने दिया कुंवर विक्रम की अर्थी को कंधा, चाचा ने दी मुखाग्नि