अल्मोड़ा: शव यात्रा से लापता युवक का नदी में मिला शव 

अल्मोड़ा: शव यात्रा से लापता युवक का नदी में मिला शव 

अल्मोड़ा, अमृत विचार। नगर के विवेकानंद पुरी वार्ड से एक शव यात्रा में शामिल होने गए लापता युवक का शव विश्वनाथ स्थित नदी में मिला है। शव मिलने की सूचना मिलने के बाद पुलिस और एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई है। शव को नदी से निकालकर उसका पंचनामा भर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। 

बीते 23 फरवरी को नगर के विवेकानंदपुरी निवासी मनोज कन्नौजिया (31) पुत्र जगदीश लाल एक शव यात्रा में शामिल होने के लिए विश्वनाथ घाट गया हुआ था। लेकिन देर शाम होने के बाद भी वह वहां से घर नहीं लौटा। परिजनों ने उसकी काफी खोजबीन की। लेकिन मनोज का कहीं पता नहीं चला।

परेशान होकर परिजनों ने कोतवाली अल्मोड़ा में मनोज के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। जिसके बाद से पुलिस उसकी लगातार खोजबीन कर रही थी। मंगलवार की शाम विश्वनाथ घाट की ओर से गुजर रहे कुछ लोगों ने नदी में एक शव पड़ा देखा। आनन फानन में इसकी जानकारी पुलिस को दी गई।

जिसके बाद कोतवाली पुलिस और एनडीआरएफ की टीम तत्काल मौके की ओर रवाना हुई। टीम ने मौके पर पहुंचकर शव को नदी से निकाला तो उसकी शिनाख्त लापता मनोज कन्नौजिया के रूप में हुई। कोतवाली अल्मोड़ा के एसएसआई सतीश कापड़ी ने बताया कि शव का पंचनामा भर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

उन्होंने बताया कि मनोज की मौत के बारे में पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट तौर पर कुछ कहा जा सकता है। अंदेशा जताया जा रहा है कि शव यात्रा में शामिल होने के बाद मृतक नदी में नहाने उतरा होगा और यह हादसा हो गया होगा। फिलहाल मनोज का शव मिलने के बाद अब उसके परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। 

ताजा समाचार

मनमानी: यहां तो 150 कोटेदारों पर भारी पड़ रहा है ठेकेदार 
Kanpur: दिव्यांग व बुजुर्गों को परेशान करेंगे ऊंचे रैंप और सीढ़ियां; चुनाव के लिए बने पोलिंग सेंटरों के सर्वे में मिली कमियां
Kanpur: ट्रक के नीचे फेंकी गई थी नवजात बच्ची...एक माह तक जिंदगी और मौत से जूझती रही, इलाज के दौरान तोड़ा दम
शाहजहांपुर: ससुर की हत्या करने का आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर, गोली मारने का वीडियो वायरल
हल्द्वानी: LIVE - BJP के स्टार प्रचारक और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे हल्द्वानी
बहराइच: भाजपा सांसद प्रत्याशी से मुलाकात कर समस्या निस्तारण की मांग कर रहे शिक्षामित्र