रानीखेत: अब पेयजल तकनीकी फील्ड कर्मचारियों ने पकड़ी आंदोलन की राह

रानीखेत, अमृत विचार। तीन सूत्री मांगों को लेकर पेयजल तकनीकी फील्ड कर्मचारी संगठन के बैनर तले चिलियानौला स्थित जल संस्थान कार्यालय में धरना-प्रदर्शन कर विरोध दर्ज किया गया। बुधवार को अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत पेयजल तकनीकी फील्ड कर्मचारी शाखा संगठन के बैनर तले अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन प्रारंभ हो गया है। वक्ताओं ने आरोप लगाया कि …

रानीखेत, अमृत विचार। तीन सूत्री मांगों को लेकर पेयजल तकनीकी फील्ड कर्मचारी संगठन के बैनर तले चिलियानौला स्थित जल संस्थान कार्यालय में धरना-प्रदर्शन कर विरोध दर्ज किया गया।

बुधवार को अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत पेयजल तकनीकी फील्ड कर्मचारी शाखा संगठन के बैनर तले अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन प्रारंभ हो गया है। वक्ताओं ने आरोप लगाया कि भीमताल महाप्रबंधक कार्यालय में तैनात वीरेंद्र सिंह रावत कर्मचारियों का उत्पीड़न कर रहे हैं।

जिसे किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। चेतावनी दी कि जब तक वीरेंद्र सिंह रावत का स्थानांतरण किसी भी इकाई कार्यालय में नहीं किया जाता, आंदोलन जारी रहेगा। इसके साथ ही भिकियासैंण इकाई कार्यालय में तैनात पंकज सिंह रावत का स्थानांतरण स्याल्दे में करने की मांग भी उठाई। वक्ताओं ने कहा कि जो भी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी किसी कार्यालय में लिपिक का कार्य कर रहे हैं, उनसे लिपिक का कार्य नहीं लिया जाए। आंदोलनरत कर्मचारियों ने स्पष्ट तौर पर कहा कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती, धरना जारी रहेगा।

इस अवसर पर शाखा अध्यक्ष देवेंद्र सिंह रावत, सचिव बसंत सिंह बिष्ट, प्रमोद कुमार पंत, हर सिंह बिष्ट, हीरा सिंह फर्त्याल, पूरन सिंह बिष्ट, दुखी प्रसाद, हरीश राम, मदन जोशी, गिरीश जोशी आदि शामिल रहे।

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement