बरेली: पाइप लाइन फटने से दुकानों में घुसा था पानी, दो लाख का हुआ नुकसान

गोल मार्केट में दुकानदारों को हुई दिक्कत, सुबह सफाई नहीं होने से साफ करते रहे ग्राहकों के लिए रास्ता

बरेली: पाइप लाइन फटने से दुकानों में घुसा था पानी, दो लाख का हुआ नुकसान

कुतुबखाना पुल निर्माण के दौरान जलकल विभाग की लापरवाही से फटी पाइप लाइन की वजह से व्यापारियों का लाखों का नुकसान हो

बरेली, अमृत विचार। कुतुबखाना पुल निर्माण के दौरान जलकल विभाग की लापरवाही से फटी पाइप लाइन की वजह से व्यापारियों का लाखों का नुकसान हो गया है। दुकान में पानी भरने से रेडीमेड होजरी का सामान भीग गया। उस सामान को शुक्रवार को व्यापारियों ने धूप में सुखाया।

ये भी पढ़ें- बरेली: बिजली की चोरी से चला रहे थे हीटर-गीजर, टीम ने 14 लोगों को पकड़ा

कुमार टाकीज से आजमनगर जाने वाली रोड पर नीटू गारमेंट की दुकान के मालिक ने बताया कि गुरुवार को भूमिगत क्षेत्र में गोदाम में पानी भर गया। पानी भरने से होजरी का काफी सामान खराब हो गया है। कल किसी तरह दुकान से पानी निकाला और सामान को अलग रखा। शुक्रवार सुबह सामान को धूप में सुखा रहे हैं। काफी सामान दूसरे व्यापारियों की छत पर रख कर सुखा रहे हैं। व्यापारी ने बताया कि लगभग दो लाख रुपये के कपड़े खराब हुए हैं। इसकी भरपाई कौन करेगा। सीजन की शुरुआत में ही नुकसान हो गया है।

मो. ताहिर बताते हैं कि गोल मार्केट में पानी इतना ज्यादा जमा था कि दुकान का सामान बचाने में लगे रहे। दुकानों में पानी भर गया था। नीचे रखी जैकेटों में पानी जाने लगा उसे हटाकर बाहर रखवाया। आसपास के दुकानदारों ने भी काफी मदद की। सामान तो बच गया, लेकिन कोई ग्राहक दुकान में नहीं आया है। सीवर का ढक्कन खोलकर भर रहे पानी को उसमें गिराया तो उसे आगे बढ़ने से रोका गया।

राम बहादुर बताते हैं कि दुकान में पानी भरने से रोकने में ही पूरा दिन निकल गया। जो ग्राहक आना भी चाहते थे वह भी नहीं आए। गुरुवार को दिन भर दुकानदारों को पानी निकालने में ही लग गया। दुकानों में पानी आने से नुकसान हुआ है।

देव कुमार बताते हैं कि पानी तो कम हो गया, लेकिन अब गंदगी हो गई है। पानी के साथ आई मिट्टी दुकानों में जा रही है। दुकान के सामने कीचड़ हो गया है। उसे साफ करना पड़ा है। नगर निगम को यहां सफाई करानी चाहिए थी ताकि जो कीचड़ हुआ है वह समाप्त हो जाए। दुकानदारों को कुछ राहत मिल जाए, लेकिन कोई कर्मचारी सफाई के लिए नहीं आया है।

ये भी पढ़ें- बरेली: SRMS CET में दो दिवसीय जेस्ट- 2022  का आगाज, 400 से ज्यादा स्टूडेंट्स ने लिया हिस्सा

Post Comment

Comment List