रायबरेली: रेलवे में नौकरी दिलाने का झांसा देकर युवती से की ठगी, पिता व दो पुत्रों पर दर्ज हुआ केस

रायबरेली: रेलवे में नौकरी दिलाने का झांसा देकर युवती से की ठगी, पिता व दो पुत्रों पर दर्ज हुआ केस

खीरों, रायबरेली। रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर पिता और उसके दो बेटों सहित तीन लोगों ने अपने गांव की ही एक युवती से दो लाख चौंसठ हजार ठग लिए। पुलिस ने पुलिस अधीक्षक के आदेश पर पीड़िता के शिकायती पत्र के आधार पर नामजद आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

अतरहर निवासी कुमारी पायल पुत्री राम शंकर ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देते हुए आरोप लगाया है कि उसके गांव के रजनीकांत शुक्ला पुत्र बद्री प्रसाद शुक्ला और उनके बेटे विकास शुक्ला तथा विवेक शुक्ला ने रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर विगत सितंबर 2021 में उससे दो लाख चौंसठ हजार रुपए ले लिए थे।

नौकरी न मिलने पर उसने जब अपना पैसा वापस मंगा तो प्रतिपक्षी लगातार टालमटोल करते रहे। निराश होकर उसने विगत सात अगस्त को पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर अपना पैसा वापस दिलाए जाने की मांग की। जिस पर आठ सितंबर को पुलिस चौकी लल्लाखेड़ा में पुलिस और गांव के संभ्रांत लोगों के सामने प्रतिपक्षी गणों ने 15 सितंबर को 50 हजार और शेष रकम प्रतिमाह किस्तों में वापस करने का लिखित समझौता किया। उसके बाद भी उसे पैसा नहीं मिला।

उसने फिर 30 नवंबर को पुलिस अधीक्षक को एक शिकायती पत्र देकर अपना पैसा वापस दिलाने की मांग की। जिस पर क्षेत्राधिकारी कार्यालय लालगंज में बुलाकर उसका बयान दर्ज किया गया। तब से लगातार प्रतिपक्षी उसके ऊपर सुलह समझौता करने का दबाव बना रहे हैं।

पीड़िता का आरोप है कि प्रतिपक्षी उसे यह धमकी भी दे रहे हैं कि यदि उसने समझौता नहीं किया और कोई कानूनी कार्रवाई की तो वह लोग उसे जान से मार देंगे। थानाध्यक्ष देवेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि पीड़िता की शिकायती पत्र के आधार पर नामजद आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। मामले की जांच कर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: उन्नाव: पुलिस का दावा- जहर से नहीं हुई थी चार भाई-बहनों की मौत, उलझती जा रही मासूमों की मौत की गुत्थी, जानें मामला!

Online Jobs Apply