लखनऊ: 17 दिन से केजीएमयू में भर्ती है दुष्कर्म पीड़ित बच्ची, 9 महीने बाद भी नहीं मिली आर्थिक मदद, आयोग ने डीएम को लिखा पत्र

लखनऊ: 17 दिन से केजीएमयू में भर्ती है दुष्कर्म पीड़ित बच्ची, 9 महीने बाद भी नहीं मिली आर्थिक मदद, आयोग ने डीएम को लिखा पत्र

लखनऊ, अमृत विचार। दुष्कर्म पीड़ित पांच वर्षीय बच्ची की किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में तीसरी बार सर्जरी होने जा रही है। वह करीब 18 दिनों से केजीएमयू में भर्ती है, सरकारी उदासीनता के चलते उसका इलाज प्रभावित हो रहा है। बच्ची को आर्थिक मदद की जरूरत है। करीब 9 महीने बीत जाने के बाद भी बच्ची को अभी तक सरकारी मदद के नाम पर महज आयुष्मान कार्ड ही बन पाया है। वह भी काफी जद्दोजहद के बाद।

हालांकि आयुष्मान कार्ड बनने के बाद इलाज का रास्ता साफ हो गया है, लेकिन एक वक्त के खाने और बाहर से दवाओं की खरीद के लिए पीड़ित बच्ची के माता-पिता दूसरों के आगे हाथ फैलाने को मजबूर हैं। पीड़ित बच्ची की मां का आरोप है कि बाराबंकी के जिलाधिकारी को तीन बार प्रार्थना पत्र देने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हुई है। इतना ही नहीं रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष योजना का लाभ भी पीड़ित बच्ची को नहीं मिल पाया है। वहीं उत्तर प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की तरफ से बाराबंकी डीएम को पत्र लिखकर पीड़ित बच्ची को आर्थिक मदद देने के निर्देश दिये गये हैं।

जानकारों का कहना है कि रानी लक्ष्मीबाई महिला सम्मान कोष योजना के तहत जघन्य हिंसा की शिकार महिलाओं या बालिकाओं को तत्काल आर्थिक और चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराई जाती है, लेकिन 9 महीने बाद भी सरकारी तौर पर आर्थिक मदद न मिलना कई तरह के सवाल खड़े कर रहा है। दिहाड़ी मजदूरी करके जीवन यापन करने वाले पीड़ित बच्ची के माता-पिता बार-बार एक ही बात दोहराते हैं कि यदि ऐसा ही चलता रहा तो बच्ची का इलाज करा पाना मुश्किल होगा। पैसे की कमी ही उनके बच्ची के इलाज में सबसे बड़ी बाधा है। यही कारण है कि सर्जरी के लिए इस बार 17 दिन का इंतजार करना पड़ा है।

दरअसल, साल 2023 में 26 जुलाई को बाराबंकी निवासी एक पांच वर्षीय बच्ची के साथ रेप की घटना हुई थी। आरोपी ने बच्ची के साथ दरिंदगी की सभी हादें पार कर दी थीं और उसे मरा हुआ समझ कर मौके से भाग निकला था। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्ची को गंभीर हालत में भर्ती कराया था। हालत में सुधार नहीं होने पर बाराबंकी जिला अस्पताल से बच्ची को राजधानी स्थित केजीएमयू इलाज के लिए भेजा गया था। केजीएमयू में पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग में बच्ची की सर्जरी हुई थी। दोबारा सर्जरी के लिए डॉक्टरों ने 6 सप्ताह बाद बुलाया था। दोबारा से बच्ची की तबीयत खराब होने पर बाल कल्याण समिति (बाराबंकी) की अध्यक्ष बाला चतुर्वेदी और समाजसेवी अमृता शर्मा ने बच्ची को एक बार फिर बाराबंकी स्थित जिला अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां से बच्ची को केजीएमयू भेजा गया था। जहां पर केजीएमयू प्रशासन और बाल कल्याण समिति (बाराबंकी) की अध्यक्ष के प्रयासों से बच्ची को इलाज मिल पाया था। एक बार फिर बच्ची की सर्जरी होनी है जिसके लिए उसे केजीएमयू में भर्ती किया गया है।

पीड़ित बच्ची के परिजनों की सुनिये

पीड़ित बच्ची इस समय केजीएमयू में भर्ती है। बच्ची के पिता दिहाड़ी मजदूर हैं। पीड़ित बच्ची की मां ने बताया है कि कई बार बाराबंकी जिले में अधिकारियों से गुहार लगा चुके हैं, लेकिन कोई मदद नहीं मिल पा रही है। विकास भवन के अधिकारियों ने बैंक में खाता खुलवा दिया था और कहा था कि इलाज के लिए सरकार पैसा देगी, लेकिन वह आज तक नहीं मिला। डीएम साहब को भी प्रार्थना पत्र दे चुकें हैं। वहां से भी कोई मदद नहीं मिल रही है। हम लोग पढ़े लिखे नहीं है। आगे क्या कर सकते हैं कोई बताने वाला नहीं है।

क्या बोले जिम्मेदार

इस मामले की हकीकत जानने के लिए बाराबंकी के जिलाधिकारी के सीयूजी नंबर 9454417540 पर फोन किया गया, लेकिन कार्यालय के कर्मचारी ने बताया कि डीएम साहब एक घटना पर गये हुये हैं। आने पर बात कराई जायेगी। वहीं 18 मार्च को डीपीओ पल्लवी सिंह ने बताया था कि यहां से सभी कार्रवाई पूरी कर दी गई है, लेकिन बजट के आभाव में आर्थिक मदद नहीं हो पाई है, लेकिन कोशिश की जा रही है कि बच्ची के इलाज के लिए कुछ मदद हो सके।

यह भी पढ़ें: Fatehpur: चॉकलेट दिलाने के बहाने दिन में दो बार किया था दुष्कर्म; आठ साल की बच्ची से रेप का आरोपी गिरफ्तार, भेजा जेल

ताजा समाचार

Auraiya: हिंदी में नंबर कम आने से आहत छात्रा ने उठाया ऐसा कदम, जानकर लोगों के उड़े होश, पढ़ें- पूरी खबर
जितिन प्रसाद बोले- आर्थिक समृद्धि के साथ आगे बढ़ रहे भारत का पूरी दुनिया में डंका
कासगंज: 'शहर की सफाई व्यवस्था से नहीं होगा समझौता', निरीक्षण कर बोलीं पालिकाध्यक्ष 
शाहजहांपुर: हमलावरों की गिरफ्तारी नहीं होने पर वकीलों का भड़का गुस्सा, कलेक्ट्र्र्रेट गेट के धरने पर बैठे...लगाया जाम
वोटिंग मशीन में गड़बड़ी नहीं हुई तो भाजपा हो जाएंगी सत्ता से बाहर, बस्ती में बोलीं मायावती
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का PM Modi पर करारा हमला, कहा- नरेंद्र मोदी झूठ बोलने में माहिर