Kanpur News: प्रदूषण के आगे स्मॉग गन और स्वीपिंग मशीनें हुईं फेल, खराब स्थिति में पहुंचा AQI

कानपुर में खराब स्थिति में एक्यूआई पहुंचा।

Kanpur News: प्रदूषण के आगे स्मॉग गन और स्वीपिंग मशीनें हुईं फेल, खराब स्थिति में पहुंचा AQI

कानपुर में प्रदूषण के आगे स्मॉग गन और स्वीपिंग मशीनें फेल हुईं। नेहरू नगर में रविवार को सुबह से रात तक एक्यूआई खराब रहा।

कानपुर, अमृत विचार। शहर के ‘एक्यूआई’ को नियंत्रित करने के सारे प्रयास फेल होते दिख रहे हैं। धुंध और प्रदूषण की वजह से वायु गुणवत्ता सूचकांक अपने अधिकतम पर है। नगर निगम ने इससे निपटने को प्रदूषण सेंसर वाले क्षेत्रों के दो किमी के दायरे को प्रदूषण सेफ जोन बनाने का प्रयास शुरू तो किया लेकिन यह सफल नहीं हो रहा है। विभाग मैकेनिकल स्वीपिंग मशीन, एंटी स्मॉग गन से अभियान भी चला रहा है, लेकिन इन क्षेत्रों को एक्यूआई कम नहीं हो रहा है। रविवार को नेहरू नगर का एक्यूआई सुबह से शाम तक 200 या इससे ऊपर ही खराब श्रेणी में दर्ज किया गया।  

सर्दियों में कानपुर के कई क्षेत्रों का एक्यूआई 150 या इससे अधिक तक पहुंच जाता है। जो हवा में जहर जैसा होता है। नेहरू नगर में लगे उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (यूपीपीसीबी) के प्रदूषण सेंसर हवा की गुणवत्ता पर प्रश्न उठाने लगे हैं। सीपीसीबी की ओर से रखी जा रही निगरानी में रविवार सुबह ने अधिकतम वायु गुणवत्ता सूचकांक 232 तक पहुंच गया जो खराब श्रेणी में आ गया है।

ऐसे में डॉक्टरों के मुताबिक फेफड़े, अस्थमा और हृदय रोग से पीड़ित लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो सकती है। यह स्थिति और न बिगड़े इसके लिए नगर निगम ने 8 मैकेनिकल स्वीपिंग मशीन, 6 एंटी स्मॉग गन को सीपीसीबी के तीन एक्यूआई स्टेशनों एफटीआई किदवई नगर, एनएसआई कल्याणपुर और नेहरू नगर के आस-पास तैनात की हैं। इसके जरिए दो किमी. के दायरे को प्रदूषण सेफ जोन बनाने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन यह प्रयास विफल हो गए हैं। हालांकि, रविवार को एफटीआई किदवई नगर, एनएसआई कल्याणपुर का एक्यूआई 150 के नीचे ही रहा।

ये भी पढ़ें- MBBS Student Murder: पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रबंधन पर संवेदनहीनता का आरोप, परिजनों ने जमकर किया हंगामा, SIT जांच की मांग

 

 

FOOTER:
Online Jobs Apply