कानपुर: शहर के टॉप टेन अपराधियों के घर पुलिस की छापेमारी, कारतूस-तमंचे मिले

-सभी जोन के डीसीपी ने की अपने-अपने क्षेत्रों में की छापेमारी, पांच लाख नकदी मिली

कानपुर: शहर के टॉप टेन अपराधियों के घर पुलिस की छापेमारी, कारतूस-तमंचे मिले

कानपुर, अमृत विचार। शनिवार को कमिश्नरेट पुलिस ने शहर के एक दर्जन से अधिक अपराधियों, हिस्ट्रीशीटर, गैंगस्टर व मादक पदार्थों के तस्करों के घरों में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान पुलिस ने अपराधियों के घरों से पिस्टल, कारतूस, तमंचे समेत लाखों की नकदी बरामद की। छापेमारी से दहशतजदा कुछ अपराधी घरों में ताला लगा कर भाग निकले, तो कुछ के घरों में उनके परिजन मिले। 

पुलिस कमिश्नर अखिल कुमार के आदेश पर शनिवार को डीसीपी पूर्वी श्रवण कुमार ने जाजमऊ, चकेरी, कैंट, रेलबाजार पुलिस फोर्स के साथ पिंटू सेंगर हत्याकांड के आरोपी पप्पू स्मार्ट व सऊद अख्तर के घर की तलाशी ली।पुलिस को सूचना मिली थी कि पप्पू स्मार्ट के घर में आपराधिक गतिविधि हो रही है, जिसके बाद शुक्रवार को पुलिस ने छापेमारी की।

वहीं गैंगस्टर सऊद अख्तर के घर पर पुलिस को ताला लगा मिला। पिंटू सेंगर हत्याकांड के आरोपी पप्पू स्मार्ट और सऊद अख्तर कुछ दिनों पहले ही जमानत पर छूटकर बाहर आए है। इस दौरान पुलिस को वहां कोई शख्स को नहीं मिला। लेकिन पुलिस को एक देशी पिस्टल और कुछ कारतूस बरामद हुए।

वहीं, शनिवार शाम एसीपी कर्नलगंज महेश कुमार ने शास्त्री नगर काली मठिया निवासी ड्रग माफिया हिस्ट्रीशीटर सुशील कुमार शर्मा उर्फ बच्चा के घर 10 थानों की फोर्स के साथ छापेमारी की। छापेमारी के दौरान सुशील के एक घर में पुलिस को ताला लगा मिला, जबकि दूसरे घर की तलाशी के दौरान पुलिस को कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली।

एसीपी ने बताया कि सुशील व उसका भाई राजकुमार ड्रग्स का कारोबार करते थे। कई बार पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। जमानत पर छूटने के बाद आरोपी भाईयों के दोबारा मादक पदार्थों की तस्करी में सक्रिय होने की सूचना मिल रही थी, जिस पर छापेमारी की गई।

बताया कि सुशील पर मादक पदार्थों की तस्करी समेत 35 गंभीर मुकदमें दर्ज है, जबकि उसके भाई राजकुमार के खिलाफ 15 मुकदमें है। वहीं सेंट्रल जोन में पुलिस ने बिकरू कांड के आरोपी जयकांत बाजपेई के घर पहुंची, हालांकि इस दौरान पुलिस को जयकांत के घर कुछ नहीं लगा। सेंट्रल जोन  की पुलिस ने तीन जून हिंसा के आरोपी हाजी वसी के घर छापेमारी की।

डीसीपी सेंट्रल आरएस गौतम ने बताया कि वसी के घर से पिस्टल के 15 कारतूस और रिवाल्वर के छह कारतूस मिले है। साढ़े पांच लाख रुपये भी मिले है। शाहिद पिच्चा के घर भी दबिश दी गई। सूरज और बृजेंद्र सोनकर के घर भी पुलिस गई थी। परिवार में दुर्घटना की वजह से पुलिस वापस आ गई।

डीसीपी वेस्ट विजय ढुल ने बताया कि कल्याणपुर के भूमाफिया राजेंद्र नेगी, बिठूर के श्रवण निषाद और निखिल निषाद के घर व पनकी में ललित दुबे और बिल्हौर सर्किल में चार अपराधियों के घर दबिश दी गई। डीसीपी साउथ रविंद्र कुमार ने बताया कि उनके जोन में 27 जगह चेकिंग की गई। घाटमपुर में इकराम के घर से तमंचा बरामद किया गया।

ये भी पढ़ें- कानपुर: मामले की जांच की जाए, जो दोषी हो उस हो कार्रवाई...इरफान सोलंकी की पत्नी ने की प्रेसवार्ता 

ताजा समाचार

मैं बनारस की जनता को नमस्कार करता हूं.., काशी पहुंचे पीएम मोदी, किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त की जारी
काशीपुर: बीमार होने पर इलाज के लिए तांत्रिक का सहारा लेना एक युवक को पड़ा भारी
Unnao: युवक का शव रख रोड की थी जाम...हंगामा और पुलिस से बदसलूकी पर 18 नामजद सहित 100 पर FIR
अयोध्या: ज्येष्ठ माह के अंतिम मंगलवार को हनुमान मंदिरों में उमड़ी आस्था, जगह-जगह लगे भंडारे
बरेली: ट्रांसफार्मर में लगी आग से मचा हड़कंप, फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने पाया काबू
अयोध्या: प्रोफेसर पति सहित सास और देवर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज, दो दिन पहले पत्नी का शव फंदे से लटकता मिला था