बरेली: शिक्षक संगठनों के विरोध के बीच समर कैंप का आदेश रद्द, पांच जून से होने थे शुरू

हीट वेव के खतरे को देखकर महानिदेशक ने उठाया कदम

बरेली: शिक्षक संगठनों के विरोध के बीच समर कैंप का आदेश रद्द, पांच जून से होने थे शुरू

बरेली, अमृत विचार। शिक्षक संगठनों के विरोध के बीच समर कैंप के आदेश को रद कर दिया गया है। भीषण गर्मी और हीट वेव के खतरे को देखते हुए महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने यह कदम उठाया है। इस संबंध में शनिवार को महानिदेशक की ओर से आदेश जारी होने पर जिले के तमाम शिक्षक संगठनों ने इस निर्णय को सही ठहराया। अमृत विचार ने भी इस मामले को प्रमुखता से उठाया था।

परिषदीय स्कूलों में 18 मई को ग्रीष्मकालीन अवकाश की घोषणा हुई थी। पांच से 11 जून के बीच विद्यालयों में समर कैंप का आयोजन कराने का आदेश जारी किया गया था। इन दिनों भीषण गर्मी, तेज धूप और हीट वेव के खतरे को देखते हुए जिले के तमाम शिक्षक नेताओं ने इस आदेश को अव्यवहारिक बताते हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी और महानिदेशक को पत्र भेजा था।

Capture

इस आदेश को छात्रहित में रद करने की मांग की थी। प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष नरेश गंगवार, पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ के मंडलीय अध्यक्ष डा. विनोद कुमार शर्मा और यूटा के जिलाध्यक्ष भानू प्रताप सिंह और शिक्षक नेता हरीश बाबू शर्मा ने कहा कि आदेश रद करने का निर्णय उचित है, क्योंकि भीषण गर्मी में स्कूल खोलकर बच्चों को बुलाने पर उनकी तबीयत खराब हो सकती थी।

ये भी पढ़ें- Bareilly News: सुबह से रात तक तीन बार लगानी होगी उपस्थिति, क्योंकि ड्यूटी छोड़ गायब हो जाती हैं शिक्षिकाएं

कैंप को लेकर महानिदेशक की ओर से भीषण गर्मी और हीट वेव के खतरे को देखते हुए फिलहाल नहीं कराने का आदेश दिया गया है-संजय सिंह, बीएसए।

ये भी पढे़ं- बरेली: समर कैंप का आदेश रद नहीं होने पर शिक्षक संगठनों ने दी आंदोलन की चेतावनी