बरेली: लभेड़ा टोल प्लाजा अब दूसरी कंपनी करेगी वसूली

 बरेली: लभेड़ा टोल प्लाजा अब दूसरी कंपनी करेगी वसूली

बरेली, अमृत विचार। पीलीभीत हाईवे पर लभेड़ा टोल प्लाजा का संचालन अब दूसरी कंपनी करेगी। रविवार को मुंबई की कंपनी ने टोल वसूली का काम नई कंपनी को सौंप दिया है। पुरानी कंपनी ने प्रतिदिन पांच लाख रुपये का घाटा बताया था। नई कंपनी रोजाना नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) को 5.88 लाख रुपये का भुगतान करेगी। यह पुरानी कंपनी से सवा लाख रुपये अधिक है।

एक साल के लिए एनएचएआई ने नई कंपनी को टोल टैक्स वसूलने की अनुमति दी है। इसके बाद दोबारा टेंडर निकालकर टोल टैक्स वसूलने वाली कंपनी तय की जाएगी। 26 अगस्त को लभेड़ा में टोल प्लाजा की शुरुआत हुई थी।

टोल प्लाजा पर रोजाना 10 लाख रुपये वसूली का अनुमान लगाया जा रहा था। टोल प्लाजा का ठेका 4.63 लाख रुपये प्रतिदिन के हिसाब से मुंबई के अनिल कुमार शुक्ला की कंपनी के नाम हुआ था। कंपनी ने करीब दो महीने बाद ही प्रतिदिन करीब पांच लाख रुपये से अधिक का घाटा बताते हुए ठेका सरेंडर करने की बात कही थी।

इस पर एनएचएआई ने तीन महीने पूरा होने तक मुंबई की कंपनी से टोल वसूली जारी रखने को कहा था। इसके बाद नए टेंडर निकाले गए। रविवार को एनएचएआई मुख्यालय में टेंडर खुले तो उच्चतम बोली बरेली के केशव अग्रवाल की कंपनी की रही।

जिसके बाद नई कंपनी को ठेका दिया गया। एनएचएआई के परियोजना निदेशक बीपी पाठक ने बताया कि बरेली की नई कंपनी ने रविवार से लभेड़ा में टोल प्लाजा पर टोल वसूली शुरू कर दी है। इससे लोगों को कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

ये भी पढ़ें- बरेली:कानपुर शहर में जल प्रदूषण की रोकथाम के लिए छात्र ने किया शोध

Online Jobs Apply