योगी सरकार ने जारी किया हॉलीडे कैलेंडर, सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा साल में 122 दिनों का अवकाश, जानिए कैसे

योगी सरकार ने जारी किया हॉलीडे कैलेंडर, सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा साल में 122 दिनों का अवकाश, जानिए कैसे

अमृत विचार लखनऊ: यूपी में अब अब एक साल में 56 सार्वजनिक आवकाश होंगे। पहली बार पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह की जयंती पर भी अवकाश की घोषणा कर दी गई है। ये घोषणा पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जयंती के दिन सोमवार को योगी सरकार ने की है। 2024 के कैलेंडर में पूरे साल पड़ने वाले कुल 24 सार्वजनिक अवकाश हैं, जबकि 29 दिन निर्बन्धित अवकाश शामिल हैं। 31 मार्च को क्लोजिंग होने के चलते एक अप्रैल को सभी बैंक, कोषागारों और उपकोषागारों में छुट्टी रहेगी। इसके अलावा 17 जनवरी को पड़ने वाले गुरु गोविंद सिंह की जयंती और 24 नवंबर को होने वाले गुरु तेग बहादुर शहीद दिवस पर भी सरकारी अवकाश रहेगा। 

इसके अलावा मो. हजरत अली के जन्म दिवस, गणतंत्र दिवस, महाशिवरात्रि, होलिका दहन, होली, गुड फ्राइ़डे, ईद-उल-फितर, डॉ. अंबेडकर के जन्मदिवस, राम नवमी, महावीर जयंती, बुद्ध पूर्णिमा, ईदुज्जुहा (बकरीद), मोहर्रम, स्वतंत्रता दिवस, रक्षा बंधन, जन्माष्टमी, ईद-ए-मिलाद/बारावफात, महात्मा गांधी जयंती, दशहरा, महानवनमी, विजयादशमी, दीपवली, गोवर्धन पूजा, भैयादूज, चित्रगुप्त जयंती, गुरुनानक जयंती, कार्तिक पूर्णिमा और क्रिसमस डे का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है। इसके अलावा जारी किया गया है उसमें जनवरी में पड़ने वाली 7, फरवरी में 3, मार्च में 6, अप्रैल में 8, मई में 3, जून में 2, जुलाई में 2, अगस्त में 3, सितंबर में 2, अक्टूबर में 8, नवंबर में 6, दिसबंर में 3 दिन की सरकारी छुट्टी शामिल है। 

साल में 52 संडे और इतने दिन होगा वर्किंग डे
प्रत्येक साल में 52 संडे या फिर किसी-किसी साल में 53 संडे भी होते हैं। हॉलीडे कैलेंडर के मुताबिक 56 सार्वजनिक छुट्टियां होंगी। इसमें 52 संडे को भी जोड़ दिया जाये तो इस तरह से 108 दिनों का अवकाश सरकारी कर्मचारियों को मिल सकेगा। हालांकि राज्य में निदेशालय स्तर पर तैनात सरकारी कर्मचारियों को शनिवार और रविवार दो दिनों का अवकाश होता है। इन कर्मचारियों की अधिकारियों काी नियमित ड्यूटी भी प्रात: 9 बजे से शाम 6 बजे तक होती है। जबकि विभाग स्तर पर तैनात कर्मचारियों की ड्यूटी प्रात: 10 बजे से शाम 5 बजे तक होती है।

इस तरह से देखा जाये तो राज्य के कर्मचारियों को साल में 108 दिन छुट्टी मिलेगी। इसके अलवा साल में मिलने वाली 14 सीएल को भी जोड़ दिया जाये तो इस तरह से कुल 122 दिनों का अवकाश होगा जायेगा। वहीं इसमें मेडिकल अवकाश नहीं शामिल है क्योंकि इसमें नियमावली के मुताबिक उसको आकस्मिक अवकाश श्रेणी में रखा गया है। 

ये भी पढ़े:- लखनऊ: सरकारी स्कूलों में विकसित भारत संकल्प यात्रा से होगी प्रतियोगिताएं, बीईओ को देनी होगी बीएसए को प्रमाण सहित जानकारी

ताजा समाचार

Kanpur Dehat News: आंधी और बारिश से बढ़ी किसानों की धड़कन, गेहूं की फसल को पहुंचा नुकसान
बरेली: मेयर उमेश गौतम के समर्थन में आया ब्राह्मण समाज, कुर्मी समाज के आरोपों को बताया निराधार
लखीमपुर-खीरी: डीएम ने इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण, दिए निर्देश
सुपर स्टार सिंगर-3 के 15वें राउंड में पीलीभीत के क्षितिज ने बनाई जगह, कल से होगी वोटिंग
Kannauj: किशोरी से दुष्कर्म का आरोपी भेजा गया जेल; सात माह पहले दिया था घटना को अंजाम, इस तरह खुली पोल
लखनऊ: लोहिया संस्थान में शुरू हुआ सुपर स्पेशलिटी आईसीयू, किडनी के मरीजों को एक छत के नीचे मिलेगा पूरा इलाज